Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

डिटीएफ टीम ने रामनगर में मारा छापा, दो ट्रैक्टर सहित मशीन जब्त

- Sponsored -

  • पत्थरो केअवैध खनन को लेकर बदरुल एवं अमीरुल सेख के खिलाफ एफआईआर दर्ज
पाकुड।  पत्थरो के अवैध उत्तखनन एवं प्रेषण के खिलाफ  कार्रवाई लगातार जारी है। गुरुवार को मालपहाडी ओद्योगिक क्षेत्र के रामनगर मौजा में जिला टास्क फोर्स की टीम ने छापेमारी की।छापेमारी के लिए जैसे ही एसडीओ सह जिला टास्क फोर्स के संयोजक पंकज कुमार साव के  नेतृत्व में अधिकारियों की टीम पहुंची खुदाई में शामिल मजदूर के साथ मुंशी सभी भागने लगे ।डिटीएफ टीम ने उत्तखनन स्थल से दो ट्रैकर सहित माउंटेड कम्प्रेशर मशीन को जप्त किया ।
पत्थरो के अवैध रखनन एवं प्रेषण को लेकर   पत्थरघट्टा के बदरुल सेख एवं  देवतल्ला के अमीरुल सेख के खिलाफ  मालपहाडी ओपी में प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है।जिला खनन पदाधिकारी प्रदीप कुमार साह के लिखित शिकायत पर   बदरुल एवं अमीरुल सेख के खिलाफ झातखण्ड लघु खनिज समनुदान नियमावली 2004 के नियम 4/54 एवं खान खनिज अधिनियम 1957 की धारा  4/21 के तहत एफआईआर दर्ज किया गया है।प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिला खनन पदाधिकारी को यह सूचना मिली थी कि पट्टाधारी रोहित राजदेव के रामनगर स्थित लीज एरिया के बगल में  बंद पड़े पुराने पत्थर खदान में अवैध तरीके से पत्थरों का उत्तखनन किया जा रहा है।मिली इसी सूचना पर एसडीओ सह डिटीएफ संयोजक  पंकज कुमार साव के नेतृत्व में डीएमओ प्रदीप कुमार साह खान निरीक्षक पिंटू कुमार मालपहाडी ओपी के पुलिस पदाधिकारी एवं जवानों के साथ छापेमारी करने निकले।
जैसे ही पदाधिकारियों की टीम  रोहित राजदेव के  खदान के पास पहुंची तो बगल स्थित खदान में काम कर रहे मजदूर  मुंशी काम छोड़कर भागने लगे।अधिकारियों ने खुदाई स्थल से दो ट्रैक्टर माउंटेड कम्प्रेशर मशीन को जप्त किया।सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक  जप्त ट्रैक्टर माउंटेड कम्प्रेशर मशीन  जिसे पत्थरो के अवैध उत्खनन को लेकर जप्त किया गया है उसका मालिक  नूर इस्लाम सेख है ।मिली जानकारी के मुताबिक नूर इस्लाम सेख  बदरुल सेख एवं अमीरुल सेख मिलकर पत्थरो का अवैध उत्तखनन सत्तापक्ष के स्थानीय नेताओं के संरक्षण में किया करता था।फिलहाल  अवैध पत्थरो के उत्तखनन  प्रेषण में शामिल माफियाओं में हड़कम मचा हुआ है। यहां उल्लेखनीय है कि एक दिन पहले डीएमओ प्रदीप कुमार साह ने  राजबान्ध मौजा में छापेमारी किया था एवं दो पत्थर माफियाओं के ख़िलाफ़ प्राथमिकी दर्ज करायी थी।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply