Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

चाईबासा में राष्ट्रीय लोक अदालत में 21 लोगों को 59,25,000 की राशि का सौंपा चेक

पीडीजे तथा जिला प्रशासन की संयुक्त पहल पर रुंगटा माइन्स प्राइवेट लिमिटेड ने कोरोना संकटकाल में अभिभावक को खो चुके 9 बच्चों को कुल 4,50,000 चेक के माध्यम से खाते पर करवाया उपलब्ध

प्रोजेक्ट शिशु अंतर्गत 5 बच्चों को 30,000 की अग्रिम राशि से किया गया अच्छादित

चाईबासा : पश्चिमी सिंहभूम जिला व्यवहार न्यायालय के परिसर में प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश मनोरंजन कवि के नेतृत्व में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत आयोजन के क्रम में जिला एवं सत्र न्यायाधीश के नेतृत्व तथा उपायुक्त अनन्य मित्तल, पुलिस अधीक्षक अजय लिंडा, डालसा सचिव कुमारी जियू, सहायक समाहर्ता रवि जैन, सदर प्रखंड विकास पदाधिकारी पारुल सिंह की उपस्थिति में विभिन्न योजना अंतर्गत योग्य लाभुकों के बीच निर्धारित राशि का चेक वितरण किया गया।

इस दौरान जिला एवं सत्र न्यायाधीश तथा जिला प्रशासन के संयुक्त पहल पर चाईबासा स्थित रुंगटा माइन्स प्राइवेट लिमिटेड के द्वारा कोरोना संक्रमण काल के दौरान अपने माता-पिता को खो चुके 9 बच्चों के सुनहरे भविष्य की परिकल्पना को साकार करने के उद्देश्यार्थ प्रति बच्चे 50-50 हजार की राशि चेक के माध्यम से सहर्ष प्रदान किया गया।

इस दौरान प्रोजेक्ट शिशु अंतर्गत समाज कल्याण विभाग जिला बाल संरक्षण इकाई की ओर से 05 अनाथ बच्चों को स्पॉन्सरशिप कार्यक्रम से जोड़ते हुए प्रत्येक बच्चे को 6,000 की अग्रिम राशि उपलब्ध करवाने के तहत डेमो चेक बच्चों के स्वजनों को दिया गया।

स्पॉन्सरशिप कार्यक्रम के तहत इन बच्चों को समुचित विकास संरक्षण के लिए 3 वर्षों की अवधि तक के लिए प्रति माह 2,000 खर्च के लिए दिए जाएंगे। कार्यक्रम में उपस्थित पदाधिकारियों के द्वारा 21 व्यक्तियों के मध्य झारखंड राज्य पीड़ित मुआवजा योजना के तहत 59 लाख 25 हजार रुपए का चेक वितरित किया गया और एक जन को कौशल विकास योजना के अंतर्गत कौशल प्रशिक्षण केंद्र में नामांकन कराया गया।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply