Live 7 Bharat
जनता की आवाज

हिमाचल में कांग्रेस ने टिकट आवंटन में मारी बाजी

- Sponsored -

हिमाचल प्रदेश विधानसभा में प्रदेश के दो प्रमुख दलों में से एक कांग्रेस ने टिकट आवंटन में बाजी मार ली।

मिशन-2022 की तैयारियों में जुटी प्रदेश कांग्रेस ने देर रात 46 प्रत्याशियों के टिकट की पहली सूची जारी कर दी। शेष 22 टिकटों पर भी दिल्ली में मंथन जारी है। कांग्रेस ने पूर्व विधायकों और वरिष्ठ नेताओं पर दोबारा दांव खेला है। लगातार हार रही कांग्रेस ने कुछ सीटों पर टिकट बदलकर नया प्रयोग करने का प्रयास किया है। कुछ सीटों पर अभी तक विवाद नहीं थमा है। इनमें शिमला, कांगड़ा और ऊना जिले की कुछ सीटें शामिल हैं। सोलह अक्टूबर को दिल्ली में हुई केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक के बाद पार्टी में टिकटों पर विवाद था। इसके बाद दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की कई दौर की बैठकें भी हुई थीं।

- Sponsored -

इसी प्रकार कांग्रेस पार्टी हाईकमान ने तीन महिलाओं को भी टिकट दी है। इसमें डलहौजी से आशा कुमारी, मंडी से चंपा ठाकुर और पच्छाद से दयाल प्यारी शामिल हैं। पांच नए चेहरों को भी पार्टी ने मैदान में उतारा है। इनमें ठियोग से कुलदीप राठौर, चुराह यशवंत खन्ना, नगरोटा बगवां से रघुवीर बाली, चौपाल से रजनीश किमटा और झंडूता से विवेक कुमार शामिल हैं।

शिमला शहरी समेत 22 सीटों पर टिकट अभी होल्ड रखे हैं। दो दिन पहले पार्टी ने हालांकि दावा किया था कि 57 सीटों पर टिकट तय कर दिए हैं, लेकिन 46 सीटों की सूची जारी की गई। कांग्रेस ने किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी की टिकट होल्ड कर चैंका दिया है। पहले प्रदेश कांग्रेस, इसके बाद स्क्रीनिंग कमेटी और बाद में कांग्रेस चुनाव समिति ने भी मौजूदा विधायकों को टिकट देने का निर्णय लिया था। भरमौर में पूर्व मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी का टिकट भी स्पष्ट नहीं किया है।

- Sponsored -

प्रदेश में युवा कांग्रेस और कुछ पूर्व विधायकों के विरोध के बाद पार्टी कई टिकटों पर पुनर्विचार कर रही है। किन्नौर में युकां के प्रदेशाध्यक्ष निगम भंडारी, सरकाघाट में कार्यकारी अध्यक्ष यदोपति ठाकुर और भरमौर से महासचिव अमित भरमौरी टिकट की दावेदारी कर रहे हैं। पार्टी ने तीनों सीटों के लिए घोषणा नहीं की।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: