Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

जिलें में कोयला तस्करी उफान पर: प्रतिमाह 100 करोड़ की राष्ट्रीय संपत्ति लूट रहे है सिंडिकेट


Warning: file_get_contents(): SSL operation failed with code 1. OpenSSL Error messages: error:14090086:SSL routines:ssl3_get_server_certificate:certificate verify failed in /www/wwwroot/live7tv.com/wp-content/plugins/better-adsmanager/includes/libs/better-framework/functions/other.php on line 612

Warning: file_get_contents(): Failed to enable crypto in /www/wwwroot/live7tv.com/wp-content/plugins/better-adsmanager/includes/libs/better-framework/functions/other.php on line 612

Warning: file_get_contents(https://live7tv.com/wp-content/plugins/better-adsmanager//js/adsense-lazy.min.js): failed to open stream: operation failed in /www/wwwroot/live7tv.com/wp-content/plugins/better-adsmanager/includes/libs/better-framework/functions/other.php on line 612

- Sponsored -

एक दशक के बाद दिखा ऐसा नजारा, बहती गंगा में हाथ धोने की मची है आपाधापी:- 
कमलेश कुमार ‘राजा’
धनबाद: पूरे जिलें में कोयला तस्करी पूरे उफान पर है। तस्कर सिंडिकेटो का मकसद राष्ट्रीय संपत्ति को अधिक से अधिक लूटकर अकूत संपत्ति अर्जित करने की है, वही तस्करी रोकने वालें जिम्मेवारो की भी सोच शायद यही है। जिलें के निरसा, बाघमारा,झरिया और सिंदरी क्षेत्र में लगे सिंडिकेट प्रतिमाह 100 करोड़ की संपत्ति लूट रहे है। हालांकि खबरें अखबारों की सुर्खियां बनने के बाद कई क्षेत्रों में पुलिसिया कार्रवाई जरूर हुई, लेकिन लोग कहते है की ये महज खानापूर्ति है। पुराने जानकारों की माने तो तस्करी का ऐसा नजारा एक दशक के बाद देखने को मिला है। बहती गंगा में हाथ धोने की आपा धापी मची है। लोग अवैध माइंस, बीसीसीएल व इसीएल के बंद खदानों से,कोलियरियों के कोलडंप से,ट्रांसपोर्टिंग वाहनों से राष्ट्रीय संपत्ति को चुराने में जी जान से जुटे है। जिसे साइकिल,बाइक,ट्रैक्टर व छोटे वाहनों के माध्यम से अवैध स्थान पर जमाकर,ट्रक के जरिए राज्य के बाहर भेजा जाता है। इस बड़े नेटवर्क में पुलिस अधिकारी, नेता,दबंग,पत्रकार और स्थानीय ग्रामीण सभी शामिल है।
गोयल और गणेश मचा रहे धमाल,झरिया,निरसा, बाघमारा और बलियापुर के क्षेत्रों में चलता है राज:
सूचना के अनुसार जिलें को दो पुराने दिग्गज अवैध धंधेबाज गणेश और गोयल झरिया,निरसा,बाघमारा के महुदा और बलियापुर क्षेत्र में कोयला तस्करी की धूम मचाए है। इनके अवैध डीपू में प्रतिदिन सैकड़ों टन अवैध कोयले की खरीदारी की जाती है। माधो और शैलेन नामक बिचौलिया उक्त खरीदारी के समय व्यवस्थित रूप से तत्पर होते है ताकि कही से कोई कार्रवाई न हो जाए। रात्रि के समय महफिल के दौरान बिचौलियां माधो फिल्मी स्टाइल में कहते नही थकता की पूरा सिस्टम उनके बॉस गोयल के रहमोकरम पर है। यहां से लेकर मुख्यालय तक कोई भी शिकायत कर ले, उनका कुछ नही होगा। बल्कि उल्टे शिकायतकर्ता की सूचना उन्हे मिल जाएगी,फिर उसे भी समझ लेंगे। बड़े बड़े अधिकारी उसके बॉस के समक्ष सर झुकाते है। वही उससे भी दो कदम उपर जाकर शैलेंद्र दावा ठोकते हुए कहता है की ऐसे ही कोयले का काम शुरू नही होता, बड़का साहब को 15 लाख टोकन मनी जमा करनी पड़ती है। जीएम को 5 लाख और कोयला भवन स्थित एक बड़े अधिकारी को 10 लाख देने के बाद आंख बंद हुई है। हालांकि हर एक दो दिन में 5 टन कोयले की कुर्बानी देनी पड़ती है। जिसे जब्त कर अधिकारी कोरम पूरा करते हैं।
कभी 10 रूपये बोरी कोयला खरीदने वाला चर्चित तस्कर गोयल आज बना अरबपति
जानकारों की माने तो अवैध कोयला किंग गोयल वर्षो पूर्व गया गुजरा आदमी था। कभी 10 रूपये प्रति बोरी की दर से अवैध कोयला खरीद भागा रेलवे स्टेशन से ट्रेन की बोगियों में 200 बोरी कोयला बंगाल के दुबड़ा स्थित अवैध भट्ठों में बेचा करता था। धीरे धीरे उसने उक्त स्थल पर अपना भट्ठा खोला और उसमे साठ गांठ की नीति अपनाकर अवैध कोयला गिराने लगा। देखते ही देखते कुछ वर्षो में ऐसे कई भट्ठे और अवैध डीपू खोल गोयल अरबपति बन गया। धीरे धीरे राजनीतिक बिसातों में अपनी पकड़ जमाई और कई राजनेताओं का संरक्षण लेकर कोयला किंग बन गया। कई बार उसके कारनामें अखबारों की सुर्खियां भी बनी लेकिन बाद में उसने सभी को मैनेज कर लिया।
रात में कतरास पुलिस की छापेमारी,पकड़ा ट्रक सहित 200 टन कोयला, सुबह तक मामला हुआ साफ
सूचना के अनुसार मंगलवार की देर रात बाघमारा डीएसपी के नेतृत्व में कतरास पुलिस ने क्षेत्र के गोपालपुर स्थित पप्पू नामक दबंग तस्कर के एक अवैध भट्ठे पर छापेमारी की, छापेमारी में लगभग 200 टन अवैध कोयला सहित मौके पर कोयला लोडिंग होते ट्रक को पकड़ा गया। छापेमारी के बाद सिंडिकेट तस्करों के बीच हड़कंप मच गया। रात से ही पैरोकारों के फोन की घंटियां बजने लगी,सुबह होते होते सभी को मैनेज कर मामला रफा दफा कर दिया गया। बुधवार को पुलिस से पूछे जाने पर ऐसे किसी भी छापेमारी से साफ इंकार कर दिया गया लेकिन वायरल हुए तस्वीरों ने स्थिति को स्पष्ट कर दिया। उक्त वायरल तस्वीर में कतरास पुलिस के एसआई कृष्णा सिंह अवैध कोयले का निरीक्षण करते खड़े दिखाई दे रहे है।वही सूत्रों की माने तो मैनेज होने वाले लोगों में तिलकुट चूड़ा सहित मार्केटिंग करने की मची रही होड।
वे छापेमारी में शामिल नहीं थे,डीएसपी मैडम से पूछ लीजिए: कतरास थाना प्रभारी
छापेमारी के संबंध में कतरास थाना प्रभारी रास बिहारी लाल से दूरभाष पर पूछे जाने पर उन्होंने कहा की छापेमारी में वे नही थे। वे हाईकोर्ट गए थे। पुलिस पेट्रोलिंग पार्टी द्वारा छापेमारी की गई, इसमें विशेष जानकारी डीएसपी मैडम दे सकती है। वही इस बाबत बाघमारा डीएसपी निशा मुर्मू के दूरभाष पर संपर्क किए जाने पर घंटियां बजती रही लेकिन किसी ने फोन रिसीव नहीं किया।
छापेमारी हुई थी, विशेष जानकारी मैडम से ले ले:- एसआई कृष्णा
वही मामले में वायरल तस्वीर में निरीक्षण करते कतरास थाना के एसआई कृष्णा कुमार से दूरभाष पर पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि डीएसपी मैडम के निर्देश पर छापेमारी की गई थी। उक्त डीपू में लगभग 200 टन कोयला था। वरीय अधिकारियों के द्वारा कागजातों की जांच की जा रही है। विशेष जानकारी के लिए मैडम से बात कर ले।

- Sponsored -

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.