Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मिर्चयां व सोनाचूर चावल का अन्य जिलों में होगा विस्तार : मंत्री

बीज वितरण में देरी पर छपरा के जिला कृषि पदाधिकारी को शो काउज
पटना: कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह ने शुक्रवार को भागलपुर प्रमणडल के अंतर्गत 02 जिले भागलपुर एवं बांका तथा सारण प्रमण्डल के अन्तर्गत 03 जिले छपरा, सिवान एवं गोपालगंज में कार्यान्वित किये जा रहे योजनाओं की समीक्षा वीडियो कॉफ्रेंसिंग के माध्यम से की। मंत्री ने बैठक में भागलपुर प्रमण्डल के समीक्षा के क्रम में अधिकारियों को निर्देश दिया कि जीआई टैग प्राप्त कतरनी चावल के क्षेत्र विस्तार को प्राथमिकता दी जाये। इसी प्रकार चम्पारण में मिर्चयां और रोहतास जिलें के सोनाचूर्ण चावल के क्षेत्र विस्तार पर कार्य किया जाये। चावल के ये किस्में बिहार के परम्परागत और विशिष्ट उत्पाद है, जिसका बाजार भाव काफी अच्छा है, इससे किसानों की आय बढ़ोतरी में सहायक होगा। म्मंत्री ने बैठक में सारण प्रमण्डल के समीक्षा के क्रम में निदेश दिया कि गोपालगंज जिले में किसानों के बीच अनुदानित दर पर बीज वितरण और होम डिलेवरी का कार्य सरकार के दिशा-निदेशों के अनुसार अच्छा से किया गया है। जबकि छपरा जिले में प्रगति संतोषप्रद नहीं है। उन्होंने निदेश दिया कि जिला कृषि पदाधिकारी, छपरा से बीज वितरण में देरी के लिए स्पष्टीकरण की पृच्छा की जाये। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में धान के बिचड़ा के लिए नर्सरी का कार्य पूर्ण हुआ है, जबकि धान के बुआई के लिए खेत अभी खाली है। अत: एक सप्ताह के अंदर खरीफ मौसम में मिट्टी जांच के लिए निर्धारित लक्ष्य को पूरा किया जाये। मिट्टी नमूना लेने के लिए विशेष अभियान सभी जिलों में चलाई जाये। श्री सिंह ने बैठक में भाग ले रहे सभी पदाधिकारियों को पुन: उर्वरक को उचित दाम पर किसानों को उपलब्धता हेतु आवश्यक निदेश दिया। इस अवसर पर कृषि सचिव डॉ एन सरवण कुमार, कृषि निदेशक आदेश तितरमारे, संबंधित जिलों के जिला कृषि पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply