Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

चतरा सांसद सुनील सिंह ने सोहर पंचायत को लिया था गोद

- Sponsored -

आज भी लोग मूलभूत सुविधा और रोजगार के लिए तरस रहा है
उत्तम कुमार
महुआडांड़(लातेहार): महुआडांड़ प्रखण्ड के सोहर पंचायत को चतरा सांसद सुनील सिंह के द्वारा गोद लिया गया है। लेकिन अभी तक इस गांव में रोजगार,पलायन,पानी,सड़क और स्वास्थ्य की समस्या बनी हुई है। इस संबंध में चापीपाठ ग्राम के मोनिका बेक,जयन्ती बेंक, बसन्ती देवी,जुनी देवी,सुषमा देवी आदि महिलाओं ने बताया कि घंटों इंतजार करने के बाद कभी कभार ही पानी मिलती है। मार्च माह के बाद चापीपाठ में लगे पानी टंकी से एक बुंद भी पानी नहीं मिला है। जिस कारण हम सभी लोगों को 3 किलोमीटर पैदल या साइकिल से चापी चुंआ से पानी लाना पड़ता है।वही कुछ दूरी पर विभाग द्वारा पानी टंकी का निर्माण कराया गया है। जहां ग्रामीणों को घंटों इंतजार के बाद पानी नसीब होता है।पूरे पंचायत में खास कर ग्राम चापीपाठ,चोरमुण्डा,सोहर केराखाड़ माईल गांव से हर साल रोजगार नहीं मिलने के कारण केरल, दिल्ली, हरियाणा राजस्थान जैसे महानगरों में लड़कियां काम करने जाते हैं। वहीं सड़क की बात करें तो गांव क्षेत्र की अधिकतर सड़क जर्जर हो चुकी है। इस पठारी क्षेत्र में स्वास्थ्य संबंधित कोई भी सुविधा लोगों को समय पर नहीं मिल पाती है।सोहर पंचायत से महुआडांड़ मुख्यालय का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लगभग 15 किलोमीटर दूर है। इस पंचायत के ग्राम माईल,कोरवाटोली,आराहसं में आदिम जनजाति के लोग भी निवास करते हैं।जो की काम के अभाव में पयालन करने को मजबूर हैं।पठारी क्षेत्र होने के कारण खेती बाड़ी भी नहीं के बराबर होती है। जिससे यहां के लोग लातेहार बॉर्डर से सटे गुमला जिला के गुरदरी माइंस बॉक्साइट खदान में काम करने जाते हैं। लोगों ने बताया कि माननीय सांसद सुनील सिंह अपने कार्यकतार्ओं के साथ गोद लिए सोहर पंचायत में दो बार आये। जहां उन्होंने कहा था कि इस पंचायत में शिक्षा सड़क पानी की समस्या एवं स्वस्थ से संबंधित समस्या का जल्द से जल्द सुधार कर इसे आदर्श पंचायत में बदलने का आश्वासन दिया था। परंतु ग्रामीण आज भी सांसद के गांव आने और उनके द्वारा दिये गए आश्वासनों का इंतजार कर रहे हैं।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

Leave a Reply