Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

ब्लैक फंगस के इंजेक्शन मामले की जांच की मांग

भोपाल: मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज कहा कि राज्य में कुछ स्थानों पर ब्लैक फंगस के इलाज में उपयोग आने वाले इंजेक्शनों के कारण संबंधित मरीजों में दुष्प्रभाव की शिकायतें सामने आयी हैं, जिनकी जांच करायी जानी चाहिए। वरिष्ठ नेता कमलनाथ ने ट्वीट के जरिए कहा कि ब्लैक फंगस बीमारी में उपयोग के लिए हिमाचल प्रदेश से कुछ साधारण इंजेक्शन बुलवाए गए हैं। इन इंजेक्शनों के कारण इंदौर, भोपाल, जबलपुर और सागर में कुछ मरीजों को दुष्प्रभाव की शिकायतें सामने आ रही हैं। उन्होंने कहा कि सरकार इस ओर ध्यान दे और इसका उपयोग रोकने के निर्देश जारी किए जाएं।श्री कमलनाथ ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि इस पूरे मामले की जांच भी करवायी जावे। उन्होंने सुझाव देते हुए कहा कि सरकार इस रोग के इलाज में लगने वाले आवश्यक इंजेक्शनों की आपूर्ति बढ़ाने के प्रयास युद्ध स्तर पर करे, क्योंकि अभी भी बड़ी संख्या में मरीजÞ परेशान होकर भटक रहे हैं।मध्यप्रदेश में ब्लैक फंगस के डेढ़ हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और इनका इलाज भोपाल, इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर और अन्य स्थानों पर चल रहा है। इन मरीजों के लिए राज्य सरकार ने विशेष तौर से विमान की मदद से इंजेक्शन मंगवाकर आपूर्ति सुनिश्चित करने का प्रयास किया है।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply