Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

झारखंड से कोयला लदे सैकड़ों ट्रकों को बंगाल पुलिस ने डिबूडीह बॉर्डर पर रोका,भेजा वापस

बंगाल पुलिस ने जांच के लिए रोकने की बात कही, तो ट्रक चालकों ने ऐसे किसी भी जांच से किया इंकार

- Sponsored -

अरविंद सिंह
धनबाद/चिरकुंडा: झारखंड बंगाल बॉर्डर के डिबुडीह चेकपोस्ट पर शुक्रवार की देर रात से कोयला लदे ट्रकों को बंगाल पुलिस द्वारा वापस लौटाए जाने के बाद हड़कंप मचा है। एनएच 2 जीटी में रोड वाहनों की लंबी कतारें लग गई है, ट्रक चालक परेशान है, कोई कुछ बताने को तैयार नहीं है। डिबूडीह चेकपोस्ट प्रभारी का वाहन चालकों को उपर के आदेश का हवाला दिया गया है। कहा गया है की कोयला लदे वाहनों को बंगाल में प्रवेश करने की रोक लगाई गई है। वही इस बाबत आसनसोल पुलिस कमिश्नरेट वेस्ट जोन के डीसीपी अभिषेक मोदी ने कहा की अवैध कोयला लदे वाहनों की जांच की जा रही है, उन्हे रोकने के निर्देश दिए गए है। वही सूत्रों की माने तो उक्त प्रकरण पर उच्च राजनीतिक हस्तक्षेप का मामला है, राजनीतिक दिशा निर्देश पर ही झारखंड से आने वाले कोयला ट्रकों को वापस भेजा गया है।
बिना किसी जांच के सीधे वापस भेजा
वापस लौटाए जाने के बाद सैकड़ों कोयला लदे वाहन एनएच 2 बॉर्डर पर फंसे है। सभी को बंगाल के अलग अलग स्थानों पर कोयला पहुंचाना था। ट्रक संख्या जेएच02ए डब्लू 3439, जेएच02एन-9193, जेएच02एएस 4744, जेएच10एए 8755, एनएल01एसी 9347, जेएच 10एए 3886, जेएच 02क्यू 6391,जेएच10एबी 6321,जेएच10एए 3493,जेएच 02यू 5358,जेएच 02एएल1229, जेएच02ए डब्लू 7368,जेएच 02एडब्लू 4342 के चालकों में आलम खान,मेघनाथ यादव,उमेश कर्मकार,लक्ष्मी सिंह,कालीचरण रवानी,महेश प्रसाद साव आदि ने पूछे जाने पर बताया की शुक्रवार की मध्यरात्रि बॉर्डर पर उन्हे रोक वापस भेज दिया गया,किसी प्रकार की कोई जांच पड़ताल नही की गई, पुलिस द्वारा उपर से आदेश होने की बात कहते हुए सीधे वापस भेज दिया गया,तब से बॉर्डर पर खड़े है।
अवैध कोयले को बंगाल आने से रोकना है: डीसीपी
इस संबंध में आसनसोल कमिश्नरेट वेस्ट जोन के डीसीपी अभिषेक मोदी से दूरभाष पर पूछे जाने पर उन्होंने बताया की अवैध कोयले को बंगाल में प्रवेश होने से रोकना है। इसी को लेकर कागजातों की जांच पड़ताल के लिए कोयला लदे ट्रकों को रोका गया है। वही जब उनसे सभी कोयला लदे ट्रकों को बिना किसी जांच के वापस भेजे जाने की बात कही गई तो उन्होंने कुछ भी जवाब नहीं दिया।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply