Live 7 Bharat
जनता की आवाज

ट्रैविस हेड और वार्नर का तूफान, धर्मशाला में न्यूजीलैंड को 389 रनों का लक्ष्य

टॉस हारकर पहले खेलने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने खड़ा किया विशाल स्कोर

- Sponsored -

 

- Sponsored -

ट्रैविस हेड के शानदार शतक और डेविड वार्नर के अर्धशतक के सहारे आस्ट्रेलिया ने  आईसीसी विश्व कप मुकाबले में न्यूजीलैंड के सामने जीत के लिये 389 रनों का विशाल लक्ष्य रखा है. धर्मशाला में खेले जा रहे मुकाबले में टॉस हारकर पहले खेलने उतरी ऑस्ट्रेलिया शानदार शुरुआत की. ट्रैविस हेड  ने 109  और डेविड वार्नर ने 81 रनों की जबरदस्त पारी खेली. दोनों ने मिलकर पहले विकेट के लिए 175  रनों की तूफानी भागीदारी की.

 

ट्रैविस हेड और वार्नर ने टीम को दी तूफानी शुरुआत

 

हिमालय की वादियों से घिरे हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के खूबसूरत मैदान पर चल रही ठंडी हवाओं के बीच हेड और वार्नर के बल्ले की आग ने स्टेडियम के माहौल में तपिश ला दी. दोनो ने कीवी गेंदबाजों की जमकर धुलायी करते हुये 19वें ओवर तक टीम के स्कोर को 175 रन पर लाकर खड़ा कर दिया जिससे लगने लगा था कि आस्ट्रेलिया 450 के आसपास स्कोर कर लेगा मगर ग्लेन फिलिप्स ने 37 रन पर तीन विकेट लेकर न सिर्फ इस तूफान को थामा बल्कि पूरी आस्ट्रेलिया टीम को 388 रनो के भीतर पैक करने में भी अहम योगदान दिया.

 

ट्रैविस हेड  बने अपने पहले विश्वकप मैच में सबसे तेज शतक लगाने वाले बल्लेबाज

विश्व कप में अपना पहला मैच खेल रहे हेड ने मात्र 59 गेंदों पर अपना शतक दस चौके और सात छक्कों की मदद से पूरा किया. इसके साथ ही हेड विश्व कप के पदार्पण मैच में सबसे तेज शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बन गये है जबकि तेज शतक के मामले में वह ग्लेन मैक्सवेल के बाद दूसरे आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी है. मैक्सवेल ने मौजूदा विश्व कप में 40 गेंदों में शतक जड़ा था.

न्यूजीलैंड को पहली सफलता वार्नर के विकेट के तौर पर मिली. उन्हे ग्लेन फिलिप्स अपनी ही गेंद पर लपका. वार्नर ने अपनी धाकड़ पारी में 65 गेंद खेल कर पांच चौके और छह छक्के लगाये. फिलिप्स ने ही हेड को भी जल्द ही दूसरा शिकार बनाया. सलामी साझीदारी टूटने के बाद न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने आस्ट्रेलिया के रनो की रफ्तार पर अंकुश लगाया. फिलिप्स ने स्टीव स्मिथ (18) को कैच आउट करा कर अपनी टीम को मैच में वापस ला दिया.
बाद में मिचेल मार्श (36),ग्लेन मैक्सवेल (41),जॉश इग्लस (38) और पैट कमिंस (37) ने तेज गति से रन बटोरने की कोशिश की मगर उतनी ही तेजी से कीवी गेंदबाजों ने कुछ हद तक अपनी टीम की वापसी कराई. ट्रेंट बोल्ट ने 77 रन देकर तीन विकेट और मिचेल सेंटनर 80 रन खर्च कर दो विकेट लिए. आखिरी दौर में ऑस्ट्रेलिया के विकेट काफी तेजी से गिरे और पूरी टीम 49.2 ओवरों में 388 रन बना कर पवेलियन लौट गयी.

इनपुट : वार्ता

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.

Breaking News: