Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

छात्रा अंकिता हत्याकांड को लेकर भाजपा हेमंत सरकार पर हुई हमलावर, डीएसपी नूर मुस्तफा को जेल भेजने की मांग

- Sponsored -

रांची: पिछले दिनों झारखंड के दुमका में एक सनकी आशिक ने 12 वीं की छात्रा अंकिता को पेट्रोल छिड़कर जिंदा जला दिया था। ऐसा उसने एकतरफा प्यार के कारण किया था। डाक्टर के अनुसार, छात्रा लगभग 45 प्रतिशत जल गई थी। छात्रा को रांची रिम्स में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान रविवार की शाम छात्रा की मौत हो गई है। इस घटना के बाद एक तरफ दुमका में तनाव का माहौल बना हुआ है, वहीं दूसरी ओर भाजपा सोशल मीडिया पर एक्टिव हो गई है। झारखंड के भाजपा के कई नेता हेमंत सरकार पर हमला बोला है।झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता रघुवर दास ने ट्वीट करते हुए कहा- “इसे तुष्टीकरण नहीं कहें, तो क्या कहें! एक और हेमंत सरकार उपद्रवी नदीम को एयर एंबुलेंस से भेजकर सरकारी खर्च पर इलाज करवा रही है।दूसरी ओर झारखंड की बेटी अंकिता को उसी के हाल पर छोड़ दिया क्योंकि जिहादी मानसिकता वालों शाहरुख ने उसे जलाया था। जनता यह दोहरी मानसिकता देख रही है।इसे तुष्टीकरण नहीं कहें, तो क्या कहें!
एक और हेमंत सरकार उपद्रवी नदीम को एयर एंबुलेंस से भेजकर सरकारी खर्च पर इलाज करवा रही है।
दूसरी ओर झारखंड की बेटी अंकिता को उसी के हाल पर छोड़ दिया क्योंकि जिहादी मानसिकता वालों शाहरुख ने उसे जलाया था।झारखंड भाजपा के विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने ट्वीट करते हुए कहा- “अंकिता हत्या कांड में जिस डीएसपी नूर मुस्तफा के काम्यूनल भूमिका व अभियुक्त शाहरुख को बचाने के आरोप को लेकर लोग उबल रहे हैं, वह अधिकारी घोर आदिवासी विरोधी है, उस इलाके में कोयला, बालू, पत्थर चोरी के सरगनाओं का संरक्षक व हिस्सेदार रहा है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.