Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

आंदोलनकारी नेता मुन्ना सिंह गिरफ्तार, जेल भेजे गये

- Sponsored -

सदर विधायक मनीष जायसवाल और एनटीपीसी के इशारे पर हुई मेरी गिरफ्तारी: मुन्ना सिंह
रैयत अपने हक और अधिकार के लिए महाआंदोलन अनवरत रखें जारी
हजारीबाग :बानादाग साईडिंग के आंदोलनकारी नेता, समाजसेवी सह हजारीबाग सदर विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी मुन्ना सिंह की गिरफ्तारी शुक्रवार की सुबह 8.30 बजे उनके चानो स्थित आवास से हुई। पुलिस लोगों को भटकाकर कभी सिलवार डीएसपी मुख्यालय तो कभी कटकमदाग थाना के रास्ते गई और अंत में कटकमसांडी थाना से उन्हें चलान किया गया। मुन्ना सिंह को दोपहर 2 बजे हजारीबाग व्यवहार न्यायालय लाया गया, जहां न्यायिक दंडाधिकारी ने 7 के न्यायिक हिरासत में भेज दिया। मुन्ना सिंह ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि कटकमदाग थाना कांड संख्या 151/21 के तहत 7 अक्टूबर को नामजद 50 लोग और 400-500 अज्ञात लोग के विरूद्ध सरकारी कार्य में बाधा डालने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करती है और 8 अक्टूबर की सुबह कटकमदाग पुलिस-कटकमसांडी पुलिस सहित जिला पुलिस आनन-फानन में आंदोलनकारियों को गिरफ्तार करने उनके आवास पहुंचती है। मुन्ना सिंह ने कहा कि मेरी गिरफ्तारी हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल और एनटीपीसी कंपनी के इशारे पर हुई है। जिससे बानादाग साईडिंग में ग्रामीणों का हक को फिर से लूटा जा सके। उन्होंने कहा कि विधायक की नेतागिरी अब बानादाग साईडिंग से पीड़ित रैयत समझ चुके है। उनके झांसे में फसने वाले अब नहीं है। रैयतों से मुन्ना सिंह ने अपील किया कि महाआंदोलन को अनवरत जारी रखें। न्यायालय हजारों रैयत के पक्ष में फैसला देगी और पुलिस जिसके इशारे पर कार्य कर रही है। उन्हें दंडित भी करेगी। मुन्ना सिंह ने कहा कि बानादाग साईडिंग की लड़ाई वहां के रैयत, विस्थापित, प्रभावित और पीड़ित किसानों की है, जिसका मैं एक अभिन्न हिस्सा हूं। जिस आंदोलन से हजारों किसान को फसल के बदले उचित मुआवजा, ग्रामीण युवा-युवतियों को रोजगार, रैयत को जमीन के बदले मुआवजा, प्रदूषित रहित गांव का विकास के साथ अन्य सामाजिक कार्य हो सकें। ऐसे आंदोलन में मैं हजार बार जेल जाना पसंद करूंगा।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.