Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

कुडू में चला प्रशासन का बुलडोजर, शहर से गांव तक हटाया गया अतिक्रमण

- Sponsored -

शाहिर रजा खान 
कुडू-लोहरदगा: अतिक्रमण पर प्रशासन की सख्ती ने सोमवार को रंग दिखाया। अतिक्रमण हटाने की कमान संभाल रहे अंचलाधिकारी प्रवीण कुमार सिंह ने सरकारी ज़मीन पर अतिक्रमण करने वाले लोंगो को सख्त हिदायत देते हुए जितना जल्दी हो सके अतिक्रमण हटा लेने और नही हटाने पर बुलडोजर से अतिक्रमण हटाने की चेतावनी दी थी। इसके लिए पिछले वर्ष प्रशासन ने नापजोख कर अतिक्रमण हटाने के लिए निशान लगा दिया था। साथ ही अतिक्रमण हटाने हेतु पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की मांग थाना प्रभारी एवं अनुमंडल पदाधिकारी से की थी। हालांकी कुछ लोगों ने बीते वर्ष स्वयं ही अतिक्रमण हटा लिया था। लेकिन कुछ लोग अंचलाधिकारी की चेतावनी के बाद भी अतिक्रमण नहीं हटा रहे थे। अंततः सोमवार 17 जनवरी को अतिक्रमण पर बुलडोजर चल ही गया। जेसीबी लेकर निकली प्रखंड प्रशासन और कुडू पुलिस की संयुक्त टीम ने कुडू शहर के बाज़ार टांड, बस स्टैंड और राजरोम गांव में अतिक्रमण हटवा दिया। दोपहर से चले अभियान की अगुवाई सीआइ सह प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी अनंत शयनम् विश्वकर्मा ने की जबकि साथ में राजस्व कर्मचारी राजेन्दर उरांव, दिलीप कुमार, कुडू थाना के एसआई रामदेव राय और भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद था। अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान सरकारी भूमि को अतिक्रमण से मुक्त करवाया गया। इस दौरान कार्रवाई से कुछ लोग गुस्से में दिखे जरूर, मगर प्रशासन के कड़े तेवर के चलते कहीं कोई विवाद नहीं हुआ।
किसी भी दशा में अतिक्रमण हटाया जायेगा : प्रवीण सिंह
सीओ प्रवीण सिंह ने कहा कि प्रशासन के निर्देश के क्रम में कार्रवाई चल रही है। किसी भी दशा में अतिक्रमणकारियों को हटाया जाएगा। जगह-जगह किया गया अतिक्रमण समस्या का सबब बनता जा रहा है।
वर्ष 2021 में ही इन स्थानों पर अवैध अतिक्रमण हटाने का आदेश निर्गत था
गौर तलब है कि मौजा जीमा के खाता 470 प्लाट 3216, 3217, 3218 रकबा 0.27 एकड़, 0.02 ए. 0.58 ए. 2. मौजा कुडू बाजार टाड खाता स. 422 प्लाट स. 475, 656 रकबा 2.94 ए. , 0.04 ए. और मौजा जोंजरो के खाता सं. 213 प्लॉट 1264 रकबा 0.21 ए. की भूमि झारखण्ड लोक भूमि अतिक्रमण अधिनियम 1956 की धारा 6(I)(e) के अंतर्गत सार्वजनिक भूमि पर अवैध रूप से निर्मित सरंचना को हटाने हेतु अतिक्रमण वाद स.  01, दिनांक 27 अगस्त 21, अतिक्रमण वाद स. 03 दिनांक 15 सितंबर 21 और अतिक्रमण वाद स. 4 दिनांक 23 सितंबर 21 को पारित आदेश में अतिक्रमण कारियों से 15 अक्टूबर 2021 तक अवैध अतिक्रमण हटाने का आदेश निर्गत था।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.