Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

गांवों में 100 प्रतिशत टीकाकरण के लिए दो-तीन दिनों के भीतर कार्ययोजना तैयार की जाए:  उपायुक्त

- Sponsored -

उपायुक्त ने की सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ वर्चुअल बैठक
कयूम खान
लोहरदगा: उपायुक्त दिलीप कुमार टोप्पो की अध्यक्षता में बुधवार की शाम वर्चुअल माध्यम से सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी के साथ बैठक आयोजित हुई। बैठक में वैसे गांवों, जहां कोविड टीकाकरण 30 प्रतिशत से कम हुआ है, उन गांवों में 100 प्रतिशत टीकाकरण के लिए अगले 2-3 दिनों के भीतर कार्ययोजना तैयार करने और 26 जनवरी तक 100 प्रतिशत टीकाकरण का कार्य किये जाने का निदेश दिया गया। साथ ही टाना भगत, मुस्लिम, पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले आदिवासी व आदिम जनजाति जिन्होंने अब तक कोविड का टीका नहीं लिया है, उन्हें चिन्हित करते हुए छूटे हुए लोगों का कोविड टीकाकरण सुनिश्चित किये जाने का निदेश दिया गया। इसके अतिरिक्त 15 प्लस किशोरों का टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए जिला शिक्षा अधीक्षक को निदेश दिया गया कि सभी उच्च विद्यालयों व इंटर कॉलेज/प्लस टू उच्च विद्यालय के छात्र-छात्राओं का टीकाकरण के लिए सूची सौंपे ताकि उनका टीकाकरण सुनिश्चित किया जा सके।

- Sponsored -

40 प्रतिशत से कम टीकाकरण वाले गांव
जिले में वैसे गांव जहां 40 प्रतिशत से कम टीकाकरण हुआ है उनमें लोहरदगा प्रखंड में बक्सी, जुरिया,मन्हो और कुरसे, सेन्हा प्रखंड में चुरकु, चमरू, अलौदी, डान्दू, उरु, गोबरसिला, बंसरी, भंडग़ांव, कल्हेपाट, पारही, मेंतगढ़ा, झखरा, बुटी, गगेया, घाटा और मुरपा, कुडू प्रखंड में लापुर, ककरगढ़, मेरले, मकंदु, सिंजो, नंतिलो, चंदू, ताकू, सुंदरू, किस्को प्रखंड में परहेपाट, खरकी, पाखर और बिटलोंग, भंडरा प्रखंड में टेटरपोका और पझरी, कैरो प्रखंड में हनहत, टाटी, उतका, पेशरार प्रखंड में बरियातू और बोन्डोबार आदि गांव शामिल हैं। उपरोक्त गॉंव में 100 प्रतिशत टीकाकरण की उपलब्धि सुनिश्चित करने के लिए उपायुक्त द्वारा कार्ययोजना बनाने व उसे पूरा करने का निदेश दिया गया। इसमें सभी सहिया, सेविका, सहायिका, शिक्षकगण को शामिल करने का निदेश दिया गया।

- Sponsored -

फर्स्ट डोज में लोहरदगा जिला राज्य में तीसरे स्थान पर : डॉ शम्भूनाथ
सदर अस्पताल उपाधीक्षक डॉ शम्भूनाथ चौधरी ने बताया लोहरदगा जिला झारखण्ड राज्य में कोविड टीकाकरण में फर्स्ट डोज में तीसरे स्थान और दूसरे डोज में दूसरे स्थान पर आ गया है। इस उपलब्धि के लिए जिले के स्वस्थ्य कर्मियों की पूरी टीम बधाई के पात्र हैं।
टीका वाहन का बेहतर इस्तेमाल करें : सिविल सर्जन
सिविल सर्जन डॉ संजय कुमार सुबोध ने कहा कि जिले में कुल 6 वाहन हैं जिसमें टीका वाहन, केयर वाहन और मोबाइल टीम है है। सभी वाहनों का इस्तेमाल टीकाकरण के लिए करें। बैठक में जिला की ओर से उप विकास आयुक्त अखौरी शशांक सिन्हा, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी पलटू महतो समेत अन्य शामिल हुए।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.