Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे का आदेश देने वाले जज सहित 619 न्‍यायिक अधिकारियों का तबादला

- Sponsored -

प्रयागराज:हाईकोर्ट प्रशासन ने यूपी के विभिन्न जिला न्यायालयों में कार्यरत न्यायिक अधिकारियों का बड़े पैमाने पर स्थानांतरण किया है। स्थानांतरित न्यायिक अधिकारियों में 285 एडीजे,121 सिविल जज सीनियर डिवीजन और 213 सिविल जज जूनियर डिवीजन शामिल हैं। सभी न्यायिक अधिकारियों को चार जुलाई तक वर्तमान तैनाती स्थान से अपना चार्ज सौंपने का निर्देश दिया गया है।वाराणसी के ज्ञानवापी विवाद में सुनवाई करने वाले वहां के सिविल जज सीनियर डिवीजन भी स्थानांतरित न्यायिक अधिकारियों में शामिल हैं। विवादित परिसर का सर्वे कराने और वजू खाने को सील करने का आदेश देने वाले सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर को वाराणसी से बरेली स्थानांतरित किया गया है। गौरतलब है कि ज्ञानवापी विवाद की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अब जिला जज को ट्रांसफर हो चुकी है।
एडीजे इफराक अहमद का गोरखपुर से फिरोजाबाद और सुशील कमार खरवार का हमीरपुर तबादला हुआ है। वहीं एडीजे गजेंद्र को कासगंज से, सुबोध वार्ष्णेय को बदायूं से, अशोक कुमार और पंकज श्रीवास्तव को सोनभद्र से, राहुल आनंद और रेनू सिंह को इटावा जनपद से इसी पद पर गोरखपुर स्थानांतरित किया गया है।
राहुल कुमार सिंह का गोरखपुर से बागपत, शिवम कुमार फरुर्खाबाद, विजय कुमार विश्वकर्मा वाराणसी और मंगल देव सिंह को सिविल जज (एसडी) पद पर एटा जनपद स्थानांतरित किया गया है। वहीं इसी पद पर जगन्नाथ को बहराइच से, विकास सिंह को गाजियाबाद से, अरुण कुमार यादव को चित्रकूट से, सुश्री स्वेता चंद्रा को बाराबंकी से और सावन कुमार विकास को लखीमपुर खीरी से गोरखपुर भेजा गया है।
सिविल जज (जेडी) संजय कुमार सिंह को गोरखपुर से लखनऊ, कुमारी अर्चना को गोण्डा, आशीष कुमार सिंह को कानपुर नगर और विराट मणि त्रिपाठी को बलिया जनपद स्थानांतरित किया गया है। इसी पद पर विपिन कुमार चौरसिया को सोनभद्र से, आशुतोष वर्मा को रामपुर से, नपेंद्र कुमार को बिजनौर से, सुश्री नगमा खान को बदायूं से, सचिन वर्मा को बहराइच से, सुश्री ज्योति वर्मा को बरेली से, सुश्री शशि किरन को बलिया से, मोहित कुमार प्रसाद को बलरामपुर से, अर्पित पंवार को कासगंज से, तरुण कुमार अग्रवाल को आगरा से और अरुण कुमार सिंह व सुश्री अमृता श्रीवास्तव को लखीमपुर खीरी से गोरखपुर भेजा गया है।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.