Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

56 घंटे बाद गांडेय से अपहृत युवक जामताड़ा से बरामद

- Sponsored -

20 लाख रुपये की मांगी जा रही थी फिरौती
गिरिडीह: गांडेय प्रखंड के कुंडलवादह पंचायत के निवर्तमान उप मुखिया अनवारूल्लाह उर्फ अनवर अंसारी के अगवा बीस वर्षीय बेटे नईमुल्लाह को करीब 56 घंटे बाद शनिवार की सुबह करीब चार बजे जामताड़ा के नारायणपुर थाना अंतर्गत से सकुशल बरामद कर लिया गया है। एसडीपीओ सदर अनिल कुमार सिंह के नेतृत्व में युवक को बरामद किया गया है। एसडीपीओ अनिल कुमार सिंह ने युवक के बरामद होने की पुष्टि की है। युवक को फिरौती देकर परिजनों ने रिहा कराया है या पुलिस ने, यह अभी पता नहीं चल सका है। गिरिडीह पुलिस ने जामताड़ा से नईमुल्लाह को अपने कब्जे में ले लिया है। उसे गिरिडीह लाकर पूछताछ की जाएगी। इसके बाद घटना की पूरी तस्वीर साफ होगी। अपराधियों ने शुक्रवार की रात पूर्व उप मुखिया को फोन कर बताया था कि वह आखिरी बार फोन कर रहा है। फिरौती की रकम देकर अपने बेटे को सकुशल वापस ले जाओ। इसके बाद घर वाले सक्रिय हुए थे। एसडीपीओ अनिल कुमार सिंह के नेतृत्व में पुलिस लगातार जामताड़ा जिले में भी पुलिस छापेमारी कर रही थी। मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस छापेमारी कर रही थी। अपराधियों का लोकेशन बदलता रह रहा था। इस कारण पुलिस को सफलता नहीं मिल पा रही थी। अगवा युवक के मित्र इकराम को पुलिस हिरासत में रखकर छापेमारी कर रही थी। प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं जामताड़ा के विधायक डॉ. इरफान अंसारी एवं गांडेय के झामुमो विधायक सरफराज अहमद शुक्रवार की शाम ताराटांड़ थाना जाकर पुलिस से अब तक हुई कार्रवाई की जानकारी ली थी।बुधवार की रात करीब आठ बजे गांव के बगल में स्थित उत्क्रमित प्राथमिक विद्यालय पेजवारा से अगवा कर लिया गया था। बाद में इस मामले में भुक्तभोगी पिता से 20 लाख रुपये की फिरौती की मांग की गई थी। बताया जाता है कि बुधवार शाम को अपने मित्र इकराम के बुलावे पर नईमुल्लाह उसे अपनी बाइक से साथ लेकर घूमने निकला था। पहले वे दोनों बगल गांव में सरस्वती पूजा के कार्यक्रम में जा रहे थे। इसी बीच किसी फोन के आने पर इकराम उसे पेजवारा विद्यालय लेकर गया। वहां पहुंचते ही पहले से घात लगाए तीन युवकों ने उन्हें पकड़ लिया। सभी के मुंह ढंके हुए थे। किसी तरह झटका देकर इकराम वहां से फरार हो गया था।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored