Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

2 दिन बाद महलाया है,बाजारों में लौटी रौनक

- Sponsored -

रांची: दो दिनों बाद महलाया है, लेकिन कोरोना संक्रमण को लेकर सरकारी गाइडलाइन के कारण सोमवार को राजधानी रांची में बाजार खुले रहे, जबकि सामान्य दिनों में दुर्गा पूजा को लेकर बाजार में कदम रखने की जगह नहीं रहती है। वहीं सोमवार होने के कारण रांची के मेन रोड के सभी मॉल और कांप्लेक्स खुले, ये मॉल को ग्राहकों से गुलजार थे। कोविड गाइडलाइन का पालन करते हुए दुकानों को खोला गया है। मेन रोड और आसपास के जगहों पर खाने-पीने के प्रतिष्ठान, फल-सब्जी और राशन दुकानों को छोड़कर सभी दुकानें खुली रहीं। दुर्गा पूजा को लेकर कपड़े की दुकानों में सबसे अधिक भीड़ अपर बाजार में देखने को मिली है, अपर बाजार में कपड़े की सारी दुकानें खुले हैं और अन्य दिनों की तुलना में ट्रैफिक काफी ज्यादा रही। मालूम हो कि कोरोना संक्रमण कम होने पर अनलॉक किया गया, लेकिन साप्ताहिक लॉकडाउन को पहले की भांति जारी रखा गया है। इस व्यवस्था के तहत शनिवार की रात 11 बजे से सोमवार की सुबह छह बजे तक लॉकडाउन प्रभावी रहता है, जिसका असर बाजार पर दिखता है।

- Sponsored -

MURTI 1
सात से शारदीय नवरात्र शुरू, 15 को दशहरा
पंचांग के अनुसार सात अक्टूबर को शारदीय नवरात्र शुरू हो रहा है, जबकि दशहरा 15 अक्टूबर को मनाया जायेगा। दुर्गा पूजा को लेकर राजधानी रांची में विभिन्न पूजा समितियों की ओर से तैयारी जोर-शोर से की जा रही है। पंडालों का निर्माण कार्य युद्ध स्तर पर जारी है। हालांकि पिछले साल की तरह इस बार भी पूजा समितियां पंडालों को सामान्य तरीके से ही बना रही हैं, क्योंकि सरकारी गाइडलाइन के अनुसार पंडालों को विशेष प्रारूप देने की अनुमति नहीं है।
पंडाल बनाने की अनुमति, लेकिन श्रद्धालू नहीं कर सकेंगे प्रवेश
सरकारी गाइडलाइन के अनुसार पूजा आयोजकों को पंडाल बनाने की छूट दी गई है, लेकिन पंडालों श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक रहेगा। पंडालों के पास मेला नहीं लगेगा। पंडाल किसी थीम पर आधारित नहीं होगा। मूर्ति की ऊंचाई भी पांच फीट रखने का आदेश दिया गया है। इसके अलावा पंडाल के पास आधी भीड़ रखने को कहा गया है, जबकि पंडाल परिसर में 18 वर्ष से कम उम्र के व्यक्ति के प्रवेश पर रोक रहेगी। बिना मास्क के प्रवेश नहीं कर सकेंगे। भोग वितरण नहीं किया जाएगा। पूजा समिति द्वारा आमंत्रण पत्र नहीं वितरित किया जाएगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम यथा गरबा और डांडिया भी प्रतिबंधित रहेंगे।
क्या कहती हैं पूजा समितियां
दुर्गा पूजा को लेकर सरकार के गाइडलाइन पर रांची रेलवे स्टेशन दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष मुनचुन राय ने कहा कि हमलोग भी चाहते हैं कि पूजा के दौरान कोराना संक्रमण नहीं फैले, लेकिन यदि आयोजन स्थल के पास कोई 18 वर्ष से कम आयु का बच्चा आता है तो उसे कैसे रोका जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार के गाइडलाइन आने के पूर्व ही मूर्ति बनाने का निर्देश अधिकांश पूजा समितियों ने दे दिया था। ऐसे में सरकार से मूर्ति की ऊंचाई को पांच फीट से बढाने समेत अन्य निर्देशों में ढिलाई की अपेक्षा है।
बॉक्स के लिये
पूजा में कैसी होगी सुरक्षा व्यवस्था, पुलिस ने तैयार की रणनीति
दुर्गा पूजा को लेकर रांची पुलिस ने सुरक्षा को लेकर भी तैयारी करनी शुरू कर दी है। इसे लेकर सिटी एसपी सौरभ ने कार्रवाई के लिए छह बिंदुओं पर रणनीति तैयार कर ली है। इसे लेकर उन्होंने राजधानी के सभी थाना प्रभारियों से रिपोर्ट मांगी है। पहले बिंदु में सांप्रदायिक गड़बड़ी करनेवाले संभावित लोगों की जानकारी मांगी गयी है। ऐसे लोगों का आपराधिक इतिहास बताने को कहा गया है। दूसरे बिंदु में पूजा के दौरान पूर्व की घटनाएं,घटना का कारण, घटनास्थल एवं उसके लिए जिम्मेवार लोगों के बारे में बताने को कहा गया है। तीसरे बिंदु में पूजा पंडाल, मूर्ति विसर्जन,मार्ग एवं किसी घटना को लेकर संवेदनशील स्थान, मूर्ति विसर्जन से संबंधित सूचना, पूजा पंडाल, आयोजक का नाम, विसर्जन का रूट और विसर्जन की तिथि मांगी गयी है। वहीं जिला प्रशासन पूजा पंडाल और रावण दहन आयोजन समिति के साथ चार अक्टूबर को दोपहर दो बजे बैठक करेगा। बैठक में विभिन्न पूजा पंडालों के आयोजकों एवं रावण दहन आयोजन समिति के साथ पंडालों के निर्माण तथा पूजा से संबंधित सरकार द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों को लेकर संवाद करते हुए समन्वय स्थापित किया जाएगा।

 

 

 

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.