Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

लुधियाना में आयकर छापे में दो करोड़ की नकदी जब्त

- Sponsored -

नयी दिल्ली : आयकर विभाग ने लुधियाना में दो प्रमुख रियल एस्टेट डेवलपरों के यहां छापेमारी की है जिसमें विदेशी मुद्रा के अलावा लगभग दो करोड़ रुपये की बेहिसाबी नकदी और लगभग 2.30 करोड़ रुपए के अस्पष्टीकृत आभूषण की बरामदगी हुई है।
विभाग ने आज यहां जारी बयान में यह जानकारी देते हुये कहा कि गत 16 नवंबर को यह कार्रवाई की गयी थी। छापेमारी लुधियाना के लगभग 40 परिसरों को शामिल किया गया था।
दोनों समूहों के विरुद्ध इन तलाशी और जब्ती की कार्रवाई से समूहों द्वारा पैसे के रूप में संपत्ति के लेन-देन से संबंधित बेहिसाब नकदी का पता चला है। तलाशी की कार्यवाही के दौरान कुछ संपत्तियों के लिए ‘बिक्री समझौते’, (जिसे ‘बियाना’ के रूप में जाना जाता है) की प्रकृति के दस्तावेजी साक्ष्य मिले हैं और जब्त किए गए हैं। इन दस्तावेजों से संकेत मिलता है कि भूखंडों के लिए ‘बिक्री समझौते’ को भूखंड के पंजीकृत बिक्री लेख में बताए गए प्रतिफल की तुलना में बहुत अधिक राशि/दर पर निष्पादित किया गया है। इसके अलावा, कुछ संपत्ति के लेनदेन, सॉफ्ट डेटा, संबंधित व्यक्तियों के मोबाइल फोन से चैट आदि की आॅन-मनी की गणना दिखाने वाली खुली शीट, एक्सेल शीट जैसे आपत्तिजनक दस्तावेज भी बरामद किए गए हैं। इन साक्ष्यों का प्रारंभिक विश्लेषण स्पष्ट रूप से संपत्ति के लेनदेन पर आॅन-मनी के माध्यम से बेहिसाब नकदी की प्राप्ति को इंगित करता है। इसके अलावा, आॅन-मनी की प्राप्ति की पुष्टि करने वाले कुछ अन्य ठोस साक्ष्य भी एकत्र किए गए हैं।
जांच में यह भी सामने आया है कि एक प्रमुख व्यक्ति के आवासीय मकान के निर्माण पर बेहिसाब नकद खर्च किया गया है। एक समूह में, भूमि के विक्रेताओं को किए गए भुगतान आदि के संबंध में स्रोत पर कर कटौती के प्रावधानों के अनुपालन में चूक का पता चला है।

 

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Leave A Reply

Your email address will not be published.