Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

18 से 44 साल के बीच के लोगों को टीके का इंतजार

औरंगाबाद, 30 अप्रैल (वार्ता) महाराष्ट्र कांग्रेस के सचिव और प्रवक्ता सचिन सावंत ने शुक्रवार को कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने 1 मई से 18-44 वर्ष के आयु वर्ग के लोगों को टीका लगाने की घोषणा की थी। दुर्भाग्यपूर्ण है कि यह देशव्यापी कार्यक्रम शुरू नहीं हो पायेगा क्योंकि मोदी सरकार ने टीकों की आपूर्ति नहीं की है।
सोशल मीडिया पर ट्वीट संदेशों की अपनी श्रृंखला में श्री सावंत ने कहा कि, ऐसे समय में जब दुनिया में युद्धस्तर पर टीकाकरण किया जा रहा है और भारत में कोविड -19 की वजह से मौतें हो रही हैं, मोदी सरकार का यह लापरवाह दृष्टिकोण आपराधिक है।
उन्होंने कहा कि भाजपा शासित म प्र के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने भी अब स्पष्ट कर दिया है कि मध्य प्रदेश में टीके की कमी के कारण एक मई से टीकाकरण शुरू नहीं होगा। मोदी सरकार इस कार्यक्रम की विफलता के लिए पूरी तरह से जिम्मेदार है। भारतीय जनता पार्टी के नेता जैसे प्रवीण दरेकर और भाजपा आईटी सेल, महाराष्ट्र की सरकार पर गलत सूचना फैला कर आरोप लगा रहे हैं। मोदी सरकार ने देश के युवाओं की ज़िम्मेदारी से किनारा करते हुए इसकी जिम्मेदारी राज्यों पर डाल दिया है लेकिन टीकाकरण में देरी से जीवन को खतरा है।
टीकों की कमी सिर्फ 18-44 वर्ष के बीच के लोगों के लिए ही नहीं है बल्कि 45 वर्ष से ऊपर के लोगों के लिए भी टीका उपलब्ध नहीं हो पा रही है।
उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के लिए 435000 रेमडिसिविर इंजेक्शन देने का वादा किया गया था लेकिन दिया कितना
गया सिर्फ 230000 इंजेक्शन दिये गये।

Looks like you have blocked notifications!
Leave a comment