Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

तमिलनाडु में 12वीं बोर्ड की परीक्षा रद्द

अंक देने के लिए पैनल की घोषणा
चेन्नई: तमिलनाडु सरकार ने कोरोना वायरस (कोविड-19) के मद्देनजर राज्य बोर्ड की 12वीं की परीक्षा रद्द कर दी है तथा छात्रों को अंक देने के तौर-तरीकों पर विचार करने के लिए एक समिति का गठन करने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने यह कदम केंद्र सरकार द्वारा कोविड-19 के कारण केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं की परीक्षा रद्द करने के बाद उठाया है। मुख्यमंत्री एम. के. स्टालिन ने एक आधिकारिक बयान में शनिवार को देर शाम कहा कि स्कूल शिक्षा मंत्री बिल महेश पोय्यामोझी द्वारा सर्वदलीय बैठक तथा शिक्षाविद, राजनेता, शिक्षक संघ, चिकित्सा पेशेवर,मनोचिकित्सक, छात्र और माता-पिता की राय के आधार पर रिपोर्ट पेश करने के बाद परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि यह फैसला छात्रों के हित में लिया गया है। सरकार राज्य बोर्ड पाठ्यक्रम के आधार पर बिना किसी परेशानी के छात्रों को उच्च शिक्षण संस्थानों में दाखिला दिलाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि बोर्ड की परीक्षाएं रद्द हो जाने के बाद राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) जैसी राष्ट्रीय स्तर की परीक्षाएं आयोजित करना उचित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि अभी तक हालांकि इस संबंध (नीट परीक्षा) में घोषणा नहीं हुयी है। उन्होंने (श्री स्टालिन) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को को पत्र लिख कर उच्च शिक्षा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा को रद्द करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि केंद्र पहले ही सीबीएसी 12वीं बोर्ड की परीक्षा को रद्द कर चुका है तथा कईं अन्य राज्यों ने भी बोर्ड की परीक्षाएं रद्द कर दी है। जिन लोगों ने 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं को लेकर अपने विचार रखे, वे सर्वसम्मति से इस बात पर सहमत थे कि छात्रों की मानसिक तथा शारीरिक स्वास्थ्य की रक्षा की जानी चाहिए। चिकित्सा विशेषज्ञों द्वारा कोरोना की तीसरी लहर की चेतावनी तथा 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को टीकाकरण के नियम का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि छात्रों को लिखित परीक्षा की अनुमति देने से संक्रमण और फैल सकता है। श्री स्टालिन ने प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में नीट जैसे राष्ट्रीय स्तर की सभी परीक्षाओं को रद्द करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि तमिलनाडु को एमबीबीएस सहित सभी व्यावसायिक पाठ्यक्रम को 12वीं बोर्ड के अंक के आधार पर भरने की अनुमति दी जा सकती है। उन्होंने कहा, मुझे यकीन है कि आप मेरे अनुरोध की निष्पक्षता की सराहना करेंगे और इस पर अनुकूल कार्रवाई करेंगे।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply