Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

माओवादियों के खिलाफ ऑपरेशन में सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी, दबोचे गए तीन महिला समेत 11 माओवादी 

- Sponsored -

सर्च ऑपरेशन के दौरान कई बड़े ईनामी नक्सलियों की गिरफ्तारी का भी दावा, जल्द होगा खुलासा
कयूम खान
लोहरदगाः लोहरदगा-गुमला और लातेहार के सीमावर्ती इलाकों में  भाकपा माओवादियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के दौरान शनिवार को सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी मिली है। बताया जा रहा है कि कई बड़े नक्सली और उनके समर्थक सुरक्षा बलों के हत्थे चढ़ गए हैं। हालांकि इनके नाम और संख्या को लेकर अब तक आधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है। सूत्रों का दावा है कि सुरक्षा बलों के सर्च ऑपरेशन में भाकपा माओवादी संगठन के जोनल कमांडर व 10 लाख का इनामी बलराम उरांव, हार्डकोर कमांडर मारकुस नगेशिया, दशरथ खेरवार, शैलेश्वर उरांव, शैलेन्द्र, शीला खेरवार, बिरेन कोरवा एवं मुकेश कोरवा के साथ 15 लाख के इनामी नक्सली रीजनल कमांडर रविंद्र गंझू की पत्नी समेत तीन महिला नक्सलियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस जानकारी की आधिकारिक पुष्टि का इंतजार किया जा रहा है।
लोहरदगा में पिछले 8 फरवरी से लगातार सुरक्षा बलों की ओर से सर्च ऑपरेशन लगाया जा रहा है। इसमें बड़े पैमाने पर हथियार और अन्य दैनिक उपयोग के सामानों की बरामदगी की गई है। अब तक करीब 9 बार से अधिक सुरक्षा बलों व नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हो चुकी है। इसमें सीआरपीएफ कोबरा बटालियन के 3 जवान नक्सलियों द्वारा कराए गए आईईडी ब्लास्ट की चपेट में आकर घायल हो चुके हैं। जबकि सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में एक नक्सली की मौत हो चुकी है। सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के कई बंकरों को भी ध्वस्त कर दिया है। दावा किया जा रहा है कि सुरक्षा बलों से चौतरफा घिर चुके नक्सली नेता और उनके कुछ समर्थक सादे लिबास में भागने की कोशिश कर रहे थे। तभी सुरक्षाबलों ने घेराबंदी कर नक्सलियों के कई शीर्ष कमांडरों को धर दबोचा है। सूत्रों द्वारा दावा किया जा रहा है कि सुरक्षाबलों द्वारा पकड़े गए नक्सलियों और उनके स्वजनों से पूछताछ की जा रही है। कहा यह भी जा रहा है कि जल्द ही रविंद्र गंझू भी पुलिस के हाथों मारा जाएगा अथवा डर से सरेंडर कर सकता है। सुरक्षाबलों के सर्च ऑपरेशन के दौरान यह अब तक की सबसे बड़ी कामयाबी कही जा रही है। भारी मात्रा में हथियार बरामद होने की बात भी सामने आ रही है।
ऑपरेशन में सुरक्षा बलों ने जब्त किए नक्सलियों के गोली-बारूद
सुरक्षा बलों की ओर से चलाए जा रहे इस ऑपरेशन में संगठन के रीजनल कमांडर रविंद्र गंझू, जोनल कमांडर छोटू खेरवार, जोनल कमांडर बलराम उरांव, सब जोनल कमांडर रंथू उरांव सहित इनके दस्ते में शामिल करीब 30 से 40 नक्सलियों की धर-पकड़ के लिए यह ऑपरेशन शुरू किया गया है। 11 दिनों में सुरक्षा बलों ने एक इंसास राइफल, एक 315 राइफल, 1 देशी राइफल, एक पिस्टल,, 21 मैगजीन, 1731 कारतूस, 33 चार्जर, 1.18 लाख रुपये, 1 हैंड ग्रेनेड, 3 आईईडी, 100 ग्राम गन पाउडर, 5 पेन ड्राइव, एक निकोन कैमरा, 4 वायरलेस सेट, एक टैब, कांटेक्ट वायर 30 मीटर, इलेक्ट्रॉनिक डेटोनेटर 187, 13 बैटरी, वर्दी सहित अन्य दैनिक उपयोग के सामान शामिल हैं।

- Sponsored -

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.