Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

रेडी टू यूज अवस्था में रखे आक्सीजन सिलेंडर: उपायुक्त

आज से पांच चरणों में चलेगा कोविड वैक्सीनेशन
मेदिनीनगर: पलामू जिले में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए आज उपायुक्त शशि रंजन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के सभी एसडीओ, बीडीओ व प्रभारी प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। उपायुक्त श्री रंजन ने कहा कि वर्तमान में कोरोना के दूसरे वेव में आॅक्सीजन की ज्यादा आवश्यकता है, इसलिये सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र आॅक्सीजन सिलेंडर को रेडी टू यूज स्टेट में रखें। उन्होंने बिना आॅक्सीजन सपोर्ट के मरीज को रेफर नहीं करने का भी निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि एमएमसीएच में बेड की कमी नहीं है। यदि कोई ऐसा मरीज है, जिसकी कंडीशन क्रिटिकल है और उन्हें अस्पताल में बेड की जरूरत है वैसे मरीज को तत्काल एमएमसीएच में रेफर करें। उन्होंने होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को सीएचसी स्तर से ही मॉनिटर करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने होम आइसोलेशन में रह रहे लोगो से अपील की कि वे अपने घर में ही रहे। यदि वे बाहर घूमते पाए गए तो उनके विरूद्ध महामारी फैलाने के आरोप में एफआईआर दर्ज की जाएगी। इसके लिए उन्होंने सभी ब्लॉक में कंट्रोल रूम बनवाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कोरोना मरीज मिलने के बाद जिला प्रशासन निरंतर रूप से कंटेनमेंट जोन बनवा रहा है। उन्होंने इंसिडेंट कमांडर व थाना प्रभारी से कड़ाई अपनाते हुए कंटेनमेंट जोन के दुकानों को बंद करवाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इस बाबत कोई भी अन्य सुनवाई नहीं की जाएगी। बैठक में उपायुक्त श्री रंजन ने 17 अप्रैल से 5 चरणों में वैक्सीनेशन ड्राइव को चलाये जाने की बात कहते हुए इसे गंभीरता से लेने को कहा। उन्होंने कहा कि इस बार का लक्ष्य प्रति सेंटर 200 वैक्सीनेशन प्रतिदिन रखा गया है। उन्होंने बताया कि मजदूर दिवस पर 1 मई को जिले के सभी संगठित तथा असंगठित मजदूरों को भी टीका लगाया जाएगा। उन्होंने बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए सख्त होने की जरूरत बताई। श्री रंजन ने कहा कि सरकारी निर्देश के अनुसार किसी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा जलसा एवं जुलूस की सख्त मनाही है। सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा जलसा एवं जुलूस आयोजन पर संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर किसी दुकान में लोग बिना मास्क के दिखाई देते हैं तो त्वरित कार्रवाई करते हुए उस दुकान को सील करें। इसके लिए प्रतिनियुक्त दंडाधिकारियों से प्रतिदिन रिपोर्ट लें।

Looks like you have blocked notifications!
Leave a comment