Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शिक्षक रामवल्लभ भारती का निधन

- Sponsored -

शिक्षा जगत के लिए अपूरणीय क्षति
कयूम खान
लोहरदगा: दिनांक 15 मई 2021 को राष्ट्रपति अवार्डी शिक्षक तथा गिरवर शिशु सदन उच्च विद्यालय के संस्थापक एवं नदिया हिन्दू उच्च विद्यालय लोहरदगा के गोल्ड मेडलिस्ट (भौतिकशास्त्र ) शिक्षक रामवल्लभ भारती जी का लम्बी बीमारी से 86 वर्ष की उम्र में देवलोक गमन  हो गया है। उनके सुपुत्र चन्दन भारती जो केंद्रीय रेशम संस्थान में तथा प्रमोद भारती कुडू विश्रामगढ  स्कूल में शिक्षक के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने उक्त जानकारी दी है। वे कुडू रूद में विगत एक सप्ताह से थे और उम्र ज्यादा होने के कारण स्वाभाविक देहांत हो गया है।अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव रुद में ही 16 मई को 2021 को किया जायेगा। उनके समय प्रधानाध्यापक के रूप मे राष्ट्रपति अवार्डी स्वर्गीय नवल किशोर सिन्हा, राष्ट्रपति अवार्डी शिक्षक स्वर्गीय दिनेश चंद्र शर्मा तथा स्वर्गीय रामनारायण प्रसाद जी  एवं अन्य  अच्छे शिक्षकों  की  एक अच्छी टीम थी और पूरे  दक्षिणी छोटानागपुर मे सर्वश्रेष्ठ उच्च विद्यालय मे गिनती होती थी। वे एक आला दर्जे के गणितज्ञ, खगोलशास्त्र के अच्छे जानकार भी थे। वे कई संस्थानों से भी निरन्तर जुड़े रहे  जिनमें एथलेटिक्स एसोसिएशन, हिंदी विकास मंच, भास्कर एस्ट्रो एसोसिएशन आदि। उनका स्वर्गवास होना लोहरदगा के शिक्षा जगत के लिए अपूरणीय क्षति है।
गणमान्य लोगों ने किया शोक व्यक्त
लोहरदगा: राष्ट्रपति अवार्डी शिक्षक रामबल्लभ भारती जी की निधन पर शिक्षा जगत के गणमान्य जनों ने शोक व्यक्त किया है। शोक व्यक्त करने वालों राज्यसभा सांसद धीरज प्रसाद साहू, लोस सांसद सुदर्शन भगत, पूर्व विधायक सह आजसू के केन्द्रीय उपाध्यक्ष कमल किशोर भगत, पूर्व विधायक सुखदेव भगत, भाजपा जिला अध्यक्ष मनीर उरांव, कांग्रेस के जिलाध्यक्ष साबिर खान, सांसद प्रतिनिधि अशोक यादव, चन्द्रशेखर प्रसाद अग्रवाल, विधायक सह मंत्री प्रतिनिधि निशिथ जायसवाल, राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शिक्षक किशोर कुमार वर्मा व गणेश लाल, शिक्षक शैलेन्द्र सुमन, शिक्षाविद शिवशंकर सिंह, विपिन गिरि, वरिष्ठ पत्रकार साकेत पुरी,  शिक्षका अनामिका भारती समेत ईष्ट जन शामिल हैं।
Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.