Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मुख्यमंत्री ने कोरोना संक्रमण से लड़ने में मांगी सेना से मदद

सेना के अस्पतालों में आम मरीजों के इलाज की हो पहल: हेमंत
संवाददाता
रांची: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने ने राज्य में कोरोना संक्रमण से लड़ने में सेना से मदद मांगी है। बुधवार को कांके रोड स्थित आवास पर सेना के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि सेना सहयोग मिलेगा तो राज्य के संक्रमितों का बेहतर तरीके से इलाज हो सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सेना को संक्रमितों के इलाज में सैन्य अस्पतालों और मानव बल का इस्तेमाल करने की दिशा में पहल करनी चाहिये। मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड मे सेना के जो अस्पताल हैं, वहां सामान्य मरीजों का भी इलाज हो सके। इस दिशा में पहल होनी चाहिये। सेना और जनभागीदारी से ही कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण स्थापित कर सकते हैं।
सैन्य अस्पतालों में चिकित्सीय संसाधन उपलब्ध कराएगी सरकार
सीएम ने सेना के अधिकारियों से कहा कि सेना का रांची के नामकुम और रामगढ़ में जो अस्पताल हैं, वहां अगर सामान्य कोविड मरीजों के इलाज की अनुमति केंद्र सरकार से मिलती है तो राज्य सरकार वहां आॅक्सीजनयुक्त बेड बढ़ाने, वेंटीलेटर की सुविधा समेत अन्य सभी चिकित्सीय जरूरत के संसाधनों को उपलब्ध कराएगी। उन्होंने कहा कि सेना के अस्पतालों में अनुभवी चिकित्सक और पारा मेडिकल कर्मी और अन्य मानव बल उपलब्ध हैं। इनका सहयोग मिलने से निश्चित तौर पर कोरोना मरीजों का बेहतर इलाज हो सकेगा।
मौके पर सेना के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके द्वारा प्रधानमंत्री को जो पत्र प्रेषित किया गया है, उसपर रक्षा मंत्रालय गंभीरता से विचार कर रहा है। सेना के अस्पतालों और मानव बल का कोरोना संक्रमण और मरीजों के इलाज में सहयोग लेने के सिलसिले में मंत्रालय द्वारा जो निर्देश मिलेगा, उसी के हिसाब से वे आगे की कारर्वाई करेंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि राज्य में सेना के दो अस्पताल झारखंड में है, जिसमें एक रांची जिला के नामकुम और दूसरा रामगढ़ में है। रांची के सैन्य अस्पताल में कुल बेडों की संख्या लगभग 400है। इसमें से दो सौ बेड कोविड मरीजों के लिए है। यहां 18 आॅक्सीजनयुक्त बेड हैं और 30 बेड पर आॅक्सीजन की सुविधा उपलब्ध कराने की पहल शुरू हो गई है। वहीं, रामगढ़ में 120 बेड का अस्पताल है। इसपर मुख्यमंत्री ने कहा कि सेना अपने सैन्य अस्पताल में कुछ बेड सामान्य मरीजों के लिए उपलब्ध कराए तो सरकार की ओर से सभी बेडों पर आॅक्सीजन की व्यवस्था कराई जाएगी। बैठक में मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, विकास आयुक्त अण कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का, नगर विकास और आवास विभाग के सचिव विनय कुमार चौबे, आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव डॉ अभिताभ कौशल के अलावा सेना से ब्रिगेडियर संजय कटियार (स्टेशन कमांडर, रांची), ब्रिगेडियर रजत शुक्ला (कमांडेंट, मिलिट्री हॉस्पिटल, नामकुम, रांची) और कर्नल के विवेक शामिल थे।

Looks like you have blocked notifications!
Leave a comment