Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

मुंगेर: जल-जीवन-हरियाली योजना की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है पौधशाला

- sponsored -

मुंगेर, 22 फरवरी (सन्मार्ग लाइव) वातावरण में सुधार और किसानों के लिए वर्षा के पानी के संरक्षण के लिए बिहार सरकार की ओर से चलाई जा रही जल-जीवन-हरियाली योजना की सफलता में मुंगेर सदर प्रखंड की पौधशालायें महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।

मुंगेर जिले में वन विभाग की नौ पौधशालाएं कार्यरत है। यह पौधशाला लगभग पांच एकड़ में फैली है और पर्यावरन, वन और जलवायु परिवर्तन विभाग के अधीन संचालित है। पौधशाला की खूबियां यह है कि यहां लगभग सत्तर प्रकार की प्रजातियों के फलदार, इमारती और औषधीय पौधे तैयार किए जाते हैं। यहां तैयार होने वाले पौधों मे कुछ पौधों की प्रजातियों में शामिल हैं, अर्जुन, आंवला, बहेरा, हर्रे, अमलतास, इमली, खैर,जामुन, महोगनी, कटहल, शीशम, काला शीशम, आम, कदम, गंभार, अनार, बांस ,अमरूद आदि।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -