Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

बिहार में दुकान-आफिस शाम चार बजे होंगी बंद और शाम छह बजे से ही रात्रि कर्फ्यू

पटना : बिहार में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को कम करने के उद्देश्य से राज्य सरकार ने आज सख्तियां बढ़ाते हुए दुकान और आॅफिस को शाम चार बजे तक बंद करने का आदेश देने के साथ ही रात्रि कर्फ्यू की अवधि को भी बढ़ाते हुए सुबह छह बजे से शाम छह बजे तक कर दिया है । मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में बुधवार को क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप (सीएमजी) की बैठक के बाद विकास आयुक्त आमिर सुबहानी तथा स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने आॅनलाइन संवाददाता सम्मेलन में बताया कि कोरोना वायरस जनित महामारी की दूसरी लहर से देश के अनेक राज्य बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं । बिहार में भी पिछले कुछ दिनों से कोरोना पोजिटिव मामलों की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है । इसे ध्यान में रखते हुए सरकार ने संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए रात्रि कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने तथा दुकान और आॅफिस में कार्य अवधि को कम करने का फैसला लिया है । श्री सुबहानी और श्री अमृत ने बताया कि नए आदेश के अनुसार कल दिनांक 29 अप्रैल से सारी दुकानें शाम 6 बजे की बजाय 4 बजे अपराह्न ही बन्द होंगी । वहीं रात्रि कर्फ्यू रात नौ बजे के बजाए शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा।विकास आयुक्त और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि विवाह समारोह के लिए 50 व्यक्तियों की एवं अंतिम संस्कार के लिए 20 व्यक्तियों की अधिसीमा रहेगी। विवाह समारोह के लिए रात्रि कर्फ्यू रात्रि 10 बजे से प्रभावी होगी । विवाह समारोह में डी०जे० का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। उन्होंने बताया कि सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालय 4 बजे अपराह्न बन्द हो जायेगी । इस अवधि के दौरान सभी सरकारी एव गैर सरकारी कार्यालय 25 प्रतिशत उपस्थिति के साथ कार्य करेंगे ( आवश्यक सेवाओं से संबंधित कार्यालयों को छोड़कर )। सभी कर्मियों ( सरकारी एवं गैर सरकारी सेवक) को घर से काम करने के लिए प्रेरित किया जाएगा। विकास आयुक्त और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि रात्रि कर्फ्यू का यह नियम सार्वजनिक परिवहन, कृषि कार्य, औद्योगिक इकाइयों, निर्माण कार्य, ई-कॉमर्स, स्वास्थ्य प्रतिष्ठानों और इससे संबंधित कार्यों, ठेले पर फल सब्जी की बिक्री करने वालों, रेस्टोरेंटों तथा ढाबों पर लागू नहीं होगा । रेस्टोरेंट में खाना पैक करा कर रात्रि नौ बजे तक ले जाने की सुविधा रहेगी । यह सख्तियां 15 मई तक लागू रहेंगी । इससे पूर्व बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आदेश दिया कि कोविड से मरे हुए सभी व्यक्तियों ( इसमें कोविड टेस्ट में निगेटिव लेकिन कोविड के लक्षण वाले मरीज भी सम्मिलित होंगे) का अंतिम संस्कार राज्य सरकार अपने खर्च पर कराएगी। नगर विकास विभाग एवं ग्रामीण विकास विभाग इसके लिए नगर निकाय एवं प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को अधिकृत कर आवश्कतानुसार राशि आवंटित करेंगे।

Looks like you have blocked notifications!
Leave a comment