Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पालिका परिषद का बजट राष्ट्रीय गौरव और वैश्विक मानकों के अनुरूप : धर्मेंद्र

- sponsored -

नयी दिल्ली, 13 जनवरी (सन्मार्ग लाइव) नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) ने आज वित्त वर्ष 2021-22 में बेहतर प्रशासन और आर्थिक रूप से सतत प्रगतिशील प्रतिबद्धता को दर्शाते हुए 172.47 करोड़ रुपये के सरप्लस का अनुमानित बजट पेश किया।

एनडीएमसी के अध्यक्ष धर्मेंद्र ने पालिका परिषद के बजट 2021-22 पेश करने के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि वर्ष 2020 में अनेक राहत दिए जाने के बावजूद भी वित्त वर्ष 2021-22 में किसी भी नये कर का प्रस्ताव नहीं किया गया है। एनडीएमसी का इस वर्ष का बजट निर्बाध, तकनीक-सक्षम, स्मार्ट, विश्वसनीय, मजबूत, स्वस्थ, स्वच्छ, दूरदर्शी और नागरिकों की देखभाल करने वाली नागरिक सेवाओं पर केंद्रित है । यह बजट पालिका परिषद को एक लचीली, समावेशी, उत्तरदायी, सतत और भविष्य-उन्मुखी नगर निकाय के रूप में राष्ट्रीय गौरव और वैश्विक मानकों के अनुरूप बनाने की प्रतिबद्धता की पुष्टि करने वाला भी है।

- Sponsored -

उन्होंने कहा कि वित्तीय वर्ष 2020-21 वैश्विक स्तर पर कोविड-19 की महामारी के अभूतपूर्व संकट से राष्ट्रीय स्तर पर लॉकडाउन के साथ चालू हुआ था और फिर आगामी महीनों में चरणबद्ध तरीके से अनलॉकिंग प्रक्रिया के साथ आगे बढ़ा लेकिन आज यह विश्वास के साथ कह सकता हूँ कि इस बीच नई दिल्ली नगरपालिका परिषद राष्ट्रीय स्तर पर नगर निकायों के बीच अपनी अग्रणी स्थिति के साथ प्रमुख सेवाओं को निर्बाध तरीके से सुनिश्चित करने में सफल रही है ।

श्री धर्मेंद्र ने कहा कि नई दिल्ली नगरपालिका परिषद ने कोविड महामारी के दौरान नागरिक सेवाओं विशेषतः स्वास्थ्य, स्वच्छता और शिक्षा इत्यादि की सेवाओं को निर्बाध रूप से नागरिकों को प्रदान करने के लिए अनेकों उपाय किये है। पालिका परिषद् ने कोविड महामारी के समय अपनी प्रतिक्रियाओ से चुनौतियों का सामना करना करना सीखा है।

पालिका परिषद अध्यक्ष ने वित्तीय रुझान पेश करते हुए बताया कि बजट अनुमान 2021-2022 की कुल प्राप्तियां 4299 करोड़ रुपये है जबकि संशोधित अनुमान वर्ष 2021-2022 में 3645.25 करोड़ रूपए रखा गया है। वर्ष 2019-20 में कुल वास्तविक प्राप्तियाँ 3648.39 करोड़ थी। बजट अनुमान वर्ष 2021-2022 में राजस्व प्राप्तियां 3590.81 करोड़ है, जबकि वर्ष 2020-21 में संशोधित अनुमान रूपए 3143.25 करोड़ है तथा वर्ष 2019-20 में वास्तविक प्राप्तियाँ 3308.63 करोड़ है। वर्ष 2021-2022 के बजट अनुमान में पूंजीगत प्राप्तियाँ 708.19 करोड़ है, जबकि वर्ष 2020-21 के संशोधित अनुमान में 502 करोड़ का प्रावधान किया गया है तथा वर्ष 2019-20 में वास्तविक प्राप्तियाँ 339.75 करोड़ है।

आजाद जितेन्द्र
जारी सन्मार्ग

Source: Univarta.

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -