Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

पलामू से कुख्यात शराब तस्कर को बिहार ले गई पुलिस

- Sponsored -

मेदिनीनगर: स्प्रिट के काले कारोबार के बारे में पलामू पुलिस को परत दर परत कई अहम जानकारी मिलते जा रही है। इस मामले में रेहला थाना प्रभारी भगवान सिंह को निलंबित कर दिया गया है, जबकि बिहार के कुख्यात शराब तस्कर विजय सिंह पटेल को पलामू पुलिस ने बिहार पुलिस को सौंप दिया है। बिहार की भोजपुर पुलिस देर रात पलामू पहुंची थी। कुख्यात शराब माफिया विजय सिंह पटेल पर बिहार के भोजपुर, आरा, मुजफ्फरपुर, पटना, औरंगाबाद, गया समेत कई जिलों में मामले दर्ज हैं। बिहार की ओबरा पुलिस 26 अप्रैल को दर्ज कांड संख्या 142/21 में विजय सिंह पटेल को ले गई है। गिरफ्तारी के बाद विजय सिंह पटेल ने पलामू पुलिस को दिग्भ्रमित करने की भी कोशिश की थी। उसने खुद को बीमार बताया था, जिसके बाद थोड़ी पुलिस उसके साथ संवेदनशीलता दिखाई थी. उस दौरान पुलिस को यह जानकारी नहीं थी कि विजय सिंह पटेल बड़ा शराब माफिया है। बाद में पुलिस को जैसे ही जानकारी मिली कि यह बिहार के कई जिलों की पुलिस उसे खोज रही है तो पलामू पुलिस ने बिहार पुलिस से संपर्क किया। जिसके बाद बिहार पुलिस पलामू के लिए रवाना हुई। वहीं, स्प्रिट की तस्करी मामले में पलामू पुलिस विजय सिंह पटेल के तीन साथियों को पहले ही जेल भेज चुकी है। बिहार के मुजफ्फरपुर निवासी जदयू नेता विजय सिंह पटेल जदयू के कद्दावर नेता माना जाता है। उसे पलामू पुलिस ने सदर थाना क्षेत्र के सिंगरा में एक बंद पड़े आईटीआई कॉलेज से 10 हजार लीटर स्प्रिट जब्त करते के बाद गिरफ्तार किया था। जानकारी के अनुसार 25 अप्रैल को पलामू के रेहला थाना क्षेत्र में पुलिस ने करीब 295 ड्रम स्प्रिट बरामद किया था। उस दौरान पुलिस को सिर्फ यह जानकारी मिली थी कि कोई पटेल टाइटल का व्यक्ति इस स्प्रिट का इस्तेमाल करनेवाला था। पलामू एसपी संजीव कुमार ने बताया कि रेहला थाना क्षेत्र में बरामद स्प्रिट के अनुसंधान में रेहला थाना प्रभारी भगवान सिंह की भूमिका संदिग्ध होते जा रही थी।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.