Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

दमोह में मतदान शांतिपूर्ण रूप से जारी

दमोह: मध्यप्रदेश की दमोह विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव के लिए 359 मतदान केन्द्रों पर आज सुबह 7 बजे मतदान शुरू हुआ और सुबह 9 बजे तक शांतिपूर्ण तरीके से आठ प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है।जिले में मतदान के लिए मतदाता सुबह से ही मतदान केन्द्रों पर पहुंच रहे हैं। मतदान के दौरान निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कोविड-19 संबंधी गाइडलाइन का पालन मतदाताओं से कराया जा रहा है। मतदान शाम 7 बजे तक चलेगा। इस सीट पर हो रहे उपचुनाव में दो महिलाओं सहित 22 प्रत्याशी मैदान में हैं। आधिकारिक जानकारी के अनुसार दमोह विधान सभा के उप निर्वाचन में 1 लाख 24 हजार 345 पुरूष और 1 लाख 15 हजार 455 महिला तथा 8 थर्ड जेन्डर मतदाता सहित कुल 2 लाख 39 हजार 808 मतदाता उपचुनाव लड़ रहे दो महिलाओं समेत 22 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। मतदाताओं में 80 वर्ष से अधिक उम्र के 2 हजार 647 मतदाता और 1 हजार 28 दिव्यांग मतदाता शामिल हैं। सर्विस मतदाताओं की संख्या 129 और पोस्टल बैलेट से मतदान करने वाले मतदाताओं की संख्या 437 है।दमोह विधान सभा के उप निर्वाचन में कुल 359 मतदान केन्द्रों पर वोट डाले जायेंगे। उप निर्वाचन में एक-एक सामान्य एवं व्यय प्रेक्षक, 68 माइक्रो प्रेक्षक तैनात किये गये हैं। मतदान के लिए 1 हजार 448 पोलिंग कर्मचारी और 432 रिजर्व पोंिलग कर्मचारियों सहित 1 हजार 880 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। यहां मतदान पूरी सुरक्षा व्यवस्था के साथ संपन्न कराने के लिए 3 सीएपीएफ, 2 एसएएफ की कंपनियां, 859 डीपीएफ, 413 होम गार्ड और 359 एसपीओ तैनात किए गए हैं। साथ ही 219 स्थानों पर वेबकास्ंिटग की व्यवस्था की गई हैं। कुल 5 हजार 163 हथियार जमा कराये गए हैं। क्रिटिकल मतदान केन्द्रों के रूप में 123 मतदान केन्द्र चिन्हित किये गए हैं। अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अरूण कुमार तोमर ने बताया कि मतदान कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए कराया जा रहा है। मतदान केन्द्र पर मतदाता के तापमान की जांच की जा रही है। मतदाता को मास्क पहनने के बाद ही मतदान करने दिया जा रहा है। मतदान केन्द्र पर अगमन और निर्गम द्वार पर हाथ धोने के लिए साबुन और सैनेटाइजर की व्यवस्था की गई है। यहां मुख्य मुकाबला भाजपा प्रत्याशी राहुल ंिसह लोधी और कांग्रेस के अजय टंडन के बीच है। राहुल लोधी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट पर जीते थे, लेकिन बाद में वे विधायक पद से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल हो गए।

 

Looks like you have blocked notifications!
Leave a comment