Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

ग्रामीणों ने 16 पशुओं को तस्करों से कराया मुक्त, चार गिरफ्तार

भंडरिया। भंडरिया थाना क्षेत्र के नौका एवं बिन्दा गांव में ग्रामीणों के सहयोग से तस्करी के लिए ले जाये जा रहे 16 गोवंशीय पशुओं को तस्करों से मुक्त कराया गया। ग्रामीणों ने चार तस्करों को दबोच लिया। जबकि अंधेरे का फायदा उठाकर पांच तस्कर भागने में सफल रहे। जानकारी के अनुसार गुरुवार की रात्रि नौका गांव में एक व्यक्ति बैठी हुई गाय को जबरन उठा रहा था। जिस पर ग्रामीणों ने पूछताछ किया। उसके जवाब से संतुष्ट नहीं होने पर इसकी पड़ताल की गई। तत्पश्चात गौतस्करों का शेष साथी जो बिंदा गांव तक कई गोवंश पशुओं के साथ पहुंच गए थे उनमें से चार को ग्रामीणों ने पकड़ लिया।

पकड़े गए गौतस्करों में ग्राम करचाली निवासी जैनुल अंसारी का पुत्र जाबिर अंसारी, बघवार गांव के छतवा टोला निवासी राणा घांसी का पुत्र नरेश घांसी, रामगढ़ थाना क्षेत्र के हुटार ग्राम निवासी हसन अंसारी का पुत्र सैदुल अंसारी, हुटार निवासी कलीम अंसारी का पुत्र जाहिद अंसारी का नाम शामिल है। पकड़े गये सभी गौतस्करों को रात्रि में ही ग्रामीणों ने भंडरिया थाना को सौंप दिया। पकड़े गए लोगों ने बताया कि वे लोग एक बैल सहित कुल 16 गोवंश पशु जिसमें ज्यादातर बछड़ा है को छतवा बघवार से हुटार गांव लेकर जा रहे थे। सभी पशुआें को तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था। तस्करी का मास्टरमाइंड ग्राम बघवार के छतवा टोला निवासी लहाऊत अंसारी है।

पकड़े गये सभी लोग 500 रुपए दैनिक मजदूरी पर गोवंश को एक स्थान से दूसरे स्थान पहुंचाते हैं। खबर लिखे जाने तक पन्द्रह पशुओं को जप्त कर थाना ले आया गया था। एक घायल अवस्था में नौका गांव में पड़ा था। इस संबंध में थाना प्रभारी लक्ष्मीकांत ने बताया कि स्थानीय ग्रामीणों की सहायता से तस्करी के लिए ले जाये जा रहे कुल 16 गोवंशीय पशुओं को बचाया गया है। ग्रामीणों ने चार तस्करों को पकड़कर थाना में सौंप दिया है। पकड़े गए लोगों को विधि सम्मत कार्रवाई करते हुए जेल भेजा जाएगा।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply