Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

गुजरात के चार बार मुख्यमंत्री रहे वयोवृद्ध कांग्रेस नेता माधवसिंह सोलंकी का निधन

- sponsored -

गांधीनगर: गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री, पूर्व केंद्रीय मंत्री और वयोवृद्ध कांग्रेस नेता माधवसिंह सोलंकी का आज यहां निधन हो गया। वह 94 वर्ष के थे। गुजरात के चार बार मुख्यमंत्री के अलावा केंद्र में मंत्री भी रह चुके श्री सोलंकी पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भरतसिंह सोलंकी के पिता थे। उनके मुख्यमंत्रित्वकाल में ही कांग्रेस ने राज्य की 182 सदस्यीय विधानसभा में 149 सीटें जीतने का रिकार्ड बनाया था, जो आज तक राज्य में किसी एक दल के सर्वाधिक सीटें जीतने का एक कीर्तिमान है। श्री सोलंकी ने आज सुबह यहां अपने आवास पर अंतिम सांस ली। उनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी समेत कई लोगों ने शोक व्यक्त किया है। गुजरात सरकार ने एक दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। उनका अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा। मध्य गुजरात के आनंद जÞलिे के बोरसद के मूल निवासी श्री सोलंकी पहली बार 1977 में मुख्यमंत्री बने थे। राज्य में कांग्रेस के पक्ष में क्षत्रिय, हरिजन, आदिवासी और मुस्लिम का कथित ‘खाम’ जातीय समीकरण बनाने और इसकी मदद से लम्बे समय तक पार्टी को जÞबरदस्त सफलता दिलाने वाले श्री सोलंकी कुल मिला कर 4 बार मुख्यमंत्री रहे थे। उनका सर्वाधिक समय तक राज्य का मुख्यमंत्री रहने का रिकार्ड बाद में तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने तोड़ा था। सक्रिय राजनीतिक जीवन के दौरान श्री सोलंकी का विवादों से भी चोली दामन का नाता रहा था। 1992 में केंद्र की तत्कालीन नरसिंह राव सरकार में विदेशमंत्री के तौर पर स्विटजÞरलैंड के दौरे में कथित बोफÞोर्स घोटाले के बारे में उनके बयान से ख़ास राजनीतिक बवाल मचा था। पिछले कई वर्षों से वह यहां अपने आवास पर सादगीपूर्ण जीवन जी रहे थे।

- Sponsored -

- Sponsored -

- Sponsored

- Sponsored -