Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

कोरोना मरीजों के उपचार में कोई कोर कसर न छोड़ी जाए:भदौरिया

भोपाल : मध्यप्रदेश के सहकारिता एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री अरविंद सिंह भदौरिया ने कहा है कि कोरोना मरीजों के उपचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी जाएं।श्री भदौरिया ने अपने प्रभार के जिले जबलपुर एवं छिंदवाड़ा जिले में कोरोना नियंत्रण, बचाव एवं उपचार की व्यवस्थाओं की समीक्षा कल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की। इसमें उन्होंने दोनों जिले के सभी प्रशासनिक एवं चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिये कि मरीजों के उपचार में कोई कोर कसर न छोड़ी जाए। कोरोना के प्रति जन-जागरूकता लाने के लिये आम नागरिकों तक सावधानियों का संदेश भी पहुँचे।उन्होंने बताया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सरकारी उचित मूल्य की दुकानों से सभी पात्र लोगों को 3 माह का राशन एकसाथ उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं। इस संबंध में आदेश भी जारी किया जा चुका है। अत: जबलपुर एवं ंिछदवाड़ा जिले में पात्र लोगों को तीन माह का राशन एक साथ उपलब्ध करवाया जाना सुनिश्चित किया जाए। राशन वितरण व्यवस्था में कोविड नियमों का पालन हो। उन्होंने बताया कि शासन द्वारा यह भी निर्णय लिया गया है कि कोरोना संकट काल में आवश्यक पैरा मेडीकल स्टॉफ तथा साफ-सफाई कर्मचारियों की पूर्ति के लिये भर्ती प्रक्रिया निर्धारित की गई है। इस प्रक्रिया को तत्काल अमल में लाया जाए। उन्होंने जिलों में आॅक्सीजन की सुनियोजित व्यवस्था करने एवं बेड की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिये। साथ ही कोविड केयर सेंटर्स में आवश्यक सुविधाएँ सुनिश्चित करने के लिये सामाजिक एवं स्वयंसेवी संस्थाओं से सहयोग का आव्हान करने के लिये भी अधिकारियों से कहा।उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले लोगों और मजदूरों को होम आईसोलेट करने करने के लिये प्रेरित किया जाये। 1 मई 2021 से 18 वर्ष से ऊपर एवं 45 वर्ष के अंदर वाले व्यक्तियों को भी वैक्सीन लगाने की तैयारी अभी से जिलों में शुरू की जाए। चिकित्सक कोविड मरीज को आवश्यक होने पर ही रेमडेसिविर इंजेक्शन लगाने का परामर्श दें ताकि अन्य जरूरतमंद व्यक्तियों को यह उपलब्ध हो सके।उन्होंने बताया कि कोरोना वॉलेंटियर्स योजना में जो संस्थाएँ एवं सामाजिक संगठन जन-जागरूकता का कार्य कर रहे है। उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा। हमें हर हाल में कोरोना की चैन को तोड़ना है और प्रदेश को संक्रमण से मुक्ति दिलाना है।

 

Looks like you have blocked notifications!
Leave a comment