Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

केपटाउन टेस्ट- भारत को 70 रन की बढ़त, बुमराह का पंजा, भारत को मिली पहली पारी में बढ़त

- Sponsored -

केप टाउन, 12 जनवरी (वार्ता) तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (42 रन पर पांच विकेट) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने दक्षिण अफ्रीका को तीसरे और निर्णायक टेस्ट मैच के दूसरे दिन बुधवार को पहली पारी में 210 रन पर ढेर कर 13 रन की बढ़त हासिल कर ली।भारत ने अपनी दूसरी पारी में दिन का खेल समाप्त होने तक दोनों सलामी बल्लेबाजों के विकेट खोकर 57 रन बना लिए हैं। भारत के पास अब कुल 70 रन की बढ़त हो गयी है। मयंक अग्रवाल सात रन बनाकर कैगिसो रबादा की गेंद पर आउट हुए जबकि लोकेश राहुल 10 रन बनाकर मार्को यानसन का शिकार बने। दो विकेट 24 रन पर गिर जाने के बाद विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा ने मोर्चा संभाला और तीसरे विकेट की अविजित साझेदारी में 33 रन जोड़ डाले। स्टंप्स पर पुजारा 31 गेंदों में नौ रन और विराट 39 गेंदों में 14 रन बनाकर क्रीज पर थे । दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों ने 17 अतिरिक्त रन देकर भारत के स्कोर को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दिया।
इससे पहले बुमराह ने कल दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर को आउट किया था और आज उन्होंने चार विकेट लेकर 23.3 ओवर में 42 रन देकर पांच विकेट पूरे किये। उमेश यादव ने 64 रन पर दो विकेट, मोहम्मद शमी ने 39 रन पर दो विकेट और शार्दुल ठाकुर ने 37 रन पर एक विकेट लिया।
मेजबान दक्षिण अफ्रीकी टीम ने सुबह आठ ओवर में 17 रन पर एक विकेट के स्कोर से आगे खेलना शुरू किया और लंच तक 27 ओवर खेले और 3.07 की रन रेट के साथ लंच तक 83 रन और जोड़े और स्कोर को 100 रन पहुंचाया। दक्षिण अफ्रीका ने हालांकि आज के पहले सत्र में दो विकेट जल्दी खो दिए। नौवें ओवर की दूसरी ही गेंद पर 17 के स्कोर पर एडन मारक्रम का विकेट गिरा, जबकि इसके बाद 21वें ओवर की दूसरी गेंद पर 45 के स्कोर पर नाइट वाचमैन केशव महाराज आउट हुए। मारक्रम जहां एक चौके के सहारे 22 गेंदों पर आठ, वहीं महाराज चार चौकों की मदद से 45 गेंदों पर 25 रन का योगदान देकर आउट हुए।
इसके बाद कीगन पीटरसन और रैसी वान डेर डुसेन ने पारी को संभाला और चौथे विकेट के लिए अर्धशतकीय साझेदारी बनाते हुए टीम को लंच तक अच्छी स्थिति में पहुंचाया। दोनों ने सूझ-बूझ के साथ खेलते हुए लंच तक कोई विकेट नहीं गिरने दिया। पीटरसन ने जहां सात चौकों की मदद से 86 गेंदों पर 40, वहीं वान डेर डुसेन ने बिना किसी बाउंड्री के 42 गेंदों पर 17 रन बनाए।
लंच तक गिरे दोनों विकेट भारतीय तेज गेंदबाजों के नाम रहे। जसप्रीत बुमराह ने मारक्रम को बोल्ड किया, जबकि उमेश यादव् ने केशव महाराज को बोल्ड कर पवेलियन का रास्ता दिखाया।
दक्षिण अफ्रीका ने दूसरे सत्र में चार विकेट गंवाए और स्कोर को 62.2 ओवर में सात विकेट के नुकसान पर 176 तक पहुंचाया। तीन विकेट पर 100 के स्कोर के साथ लंच के बाद का खेल शुरू हुआ और भारत ने शानदार वापसी करते हुए दक्षिण अफ्रीका पर पूरी तरह दबाव बनाया। उमेश यादव ने 112 के स्कोर पर रैसी वान डर डुसेन को आउट कर दक्षिण अफ्रीका को न केवल बड़ा झटका दिया, बल्कि डुसेन और पीटरसन के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 67 रन की साझेदारी को भी तोड़ दिया। डुसेन बिना बॉउंड्री के 54 गेंदों पर 21 रन बना कर आउट हुए।
इसके बाद पीटरसन और तेम्बा बावुमा के बीच साझेदारी पनपी, लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने इसे भी बड़ी साझेदारी नहीं बनने दिया। दोनों बल्लेबाजों के बीच पांचवें विकेट के लिए 47 रन की साझेदारी हुई थी कि मोहम्मद शमी ने 159 के स्कोर पर बावुमा को आउट कर दिया। बावुमा तीन चौकों की मदद से 52 गेंदों पर 28 रन बना कर आउट हुए। शमी ने इसी ओवर की चौथी गेंद पर विकेटकीपर बल्लेबाज काइल वेरेने को भी शून्य पर आउट कर डगआउट का रास्ता दिखाया। चायकाल तक का सातवां और आखिरी विकेट बुमराह ने चटकाया। उन्होंने 63वें ओवर की दूसरी गेंद पर युवा दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज मार्काे यानसन को बोल्ड किया और इसी के साथ टी ले ली गई।
लगातार विकेट गिरने से बने दबाव के बावजूद कीगन पीटरसन एक छोर पर टिके रहे। उन्होंने चाय तक नौ चौकों की मदद से 159 गेंदों पर 70 रन बनाए। चायकाल के बाद बुमराह ने पीटरसन को पुजारा के हाथों कैच करा दिया। पीटरसन ने 166 गेंदों में 72 रन बनाये। कैगिसो रबादा को टीम के 200 के स्कोर पर शार्दुल ठाकुर ने आउट किया जबकि बुमराह ने लुंगी एनगिदी का विकेट लेकर दक्षिण अफ्रीका की पारी 210 रन पर समेट दी। रबादा ने ने 15 और ओलिवियर ने तीन रन बनाये जबकि डुएन ओलिवियर 10 रन बनाकर नाबाद रहे।

Looks like you have blocked notifications!

- Sponsored -

- Sponsored -

Comments are closed.