Live 7 TV
सनसनी नहीं, सटीक खबर

किशनगंज : पहले किया प्यार,फिर कर दी नाबालिग प्रेमिका की हत्या

किशनगंज: जिले के पोठिया थाना क्षेत्र में प्रेम-प्रसंग में हुई एक नाबालिग की हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। नाबालिग से पहले फोन पर प्रेम रचाई गई फिर उसे शादी का झांसा देकर घर से बुलाया गया फिर युवती के साथ बलात्कार , इतना ही नही बल्कि नाबालिग की गला दवा कर हत्या भी कर दी गयी और हत्या के बाद शव को ठिकाने भी लगा दिया गया। इस जघन्य अपराध को (20) वर्ष के एक युवक ने अंजाम दिया है। दरअसल, यह घटना पोठिया प्रखंड के मिजार्पुर ग्राम पंचायत स्थित राजवंशी टोला मिजार्पुर की है। उक्त गांव की एक (16) वर्षीय नाबालिग युवती नेहा कुमारी (काल्पनिक नाम) के मोबाइल पर कई दिन पूर्व कुसियारी पंचायत के भावलीगच्छ निवासी प्रसंजीत सिंह पिता स्व विजय सिंह का कॉल आता है और बातचीत के दौरान उसे प्रेम-जाल में फंसा कर तथा शादी के पवित्र बंधन का प्रलोभन देकर साथ जीने और मरने की कसम खाई जाती है। युवक के प्रेम-जाल में फंस कर युवती 5 मई को अपने घर से नगदी रुपये एवं आभूषण लेकर प्रसंजीत सिंह के साथ निकल जाती है। ईधर लड़की के परिजन द्वारा काफी खोजबिन के बाद स्थानीय मुखिया एवं गणमान्य लोगों को साथ लेकर भावलीगच्छ गांव प्रसंजीत सिंह के घर पहुँचते है। जहां प्रसंजीत के परिजनों द्वारा लड़की की किसी तरह की जानकारी होने से साफ इंकार कर दिया जाता है। परंतु जब भावलीगच्छ गांव के कुछ लोग युवती के पिता समृत सिंह को प्रसंजीत के साथ एक अंजान लड़की के साथ देखे जाने की पुष्टि किया। तब प्रसंजीत सिंह ने युवति के पिता एवं अन्य लोगों के समक्ष अपना गुनाह स्वीकार करते हुए बताया कि उनकी बेटी को वह उनके घर से भगा कर लाया है और उसे बंगाल के माटिगाड़ा स्थित एक गैरेज में रखा है। इतना सुनते ही जब लड़की के पिता एवं अन्य लोग काफी आक्रोशित होकर लड़की की बरामदगी की मांग करते हुए प्रसंजीत सिंह पर दबीश बनाया तो वह अपनी हैवानियत की दांस्ता सुनाया। जिसे सुनने वालों के पैर-तले जमीन खिसक गयी। आरोपी प्रसंजीत सिंह ने कहा कि नेहा कुमारी के साथ वह दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दिया और शव को पोठिया थाना क्षेत्र के मागुरजान रेलवे स्टेशन के समीप एक बांस के झार में दफन कर दिया है। इतना सुनते ही लोगों ने आरोपी प्रसंजीत सिंह को बंधक बना लिया और पीड़ित समृत सिंह द्वारा पूरी घटना से सम्बंधित बतौर लिखित एक आवेदन थानाध्यक्ष कुंदन कुमार को दिया। थाना को मामले की सूचना मिलते ही पुलिस अभिलंब मौके पर पहुँचकर आरोपी युवक प्रसंजीत सिंह को कब्जे में लेकर थाना ले आयी। पुलिस के पूछताछ में आरोपी युवक के निशानदेही पर पुलिस टीम गठित कर घटनास्थल पर पहुँची और नाबालिग युवती के शव को जमीन से बाहर निकाला। पुलिस द्वारा युवती के परिजनों से शव की शिनाख्त कराई गयी और मृत्यु समीक्षा रिपोर्ट तैयार कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मामले में नामजद अभियुक्त प्रसंजीत सिंह के विरुद्ध पोठिया थाना कांड संख्या 88 /21 दर्ज करते हुए उसे न्याययिक हिरासत में सोमवार को जेल भेज दिया गया है।

Looks like you have blocked notifications!

Leave a Reply